जनसंख्या शेष विश्व 83.3» भारत 16.7» क्षेत्रापफल शेष विश्व 97.6» भारत 2.4» चित्रा 6.1: विश्व के क्षेत्रापफल एवं जनसंख्या में भारत का भाग 2001 की जनगणना के अनुसार देश की सबसे अिाक जनसंख्या वाला राज्य उत्तर प्रदेश है जहाँ की वुफल आबादी 1ए660 लाख है। उत्तर प्रदेश में देश की वुफल जनसंख्या का 16 प्रतिशत हिस्सा निवास करता है। दूसरी ओर हिमालय क्षेत्रा के राज्य, सिक्िकम की आबादी केवल 5 लाख ही है तथा लक्षद्वीप में केवल 60 हजार लोग निवास करते हैं। अन्य 51.2» आंध््र प्रदेश 7.41» प. बंगाल उत्तर प्रदेश 7.79» बिहार 8.02» महाराष्ट्र 9.42» 16.16» चित्रा 6.2: जनसंख्या वितरण भारत की लगभग आधी आबादी केवल पाँच राज्यों में निवास करती है। ये राज्य हैं - उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, बिहार, पश्िचम बंगाल एवं आंध्र प्रदेश। क्षेत्रापफल की दृष्िट से राजस्थान सबसे बड़ा राज्य है, जिसकी आबादी भारत की वुफल जनसंख्या का केवल 5.5 प्रतिशत है। ऽ भारत में जनसंख्या के असमान वितरण का क्या कारण है? घनत्व के आधर पर भारत में जनसंख्या वितरण जनसंख्या घनत्व, असमान वितरण का बेहतर चित्रा प्रस्तुत करता है। प्रति इकाइर् क्षेत्रापफल में रहने वाले लोगों की संख्या को जनसंख्या घनत्व कहते हैं। भारत विश्व के घनी आबादी वाले देशों मेें से एक है। ऽ केवल बांग्लादेश तथा जापान का जनसंख्या घनत्व भारत से अध्िक है। बांग्लादेश एवं जापान का जनसंख्या घनत्व ज्ञात कीजिए। 2001 में भारत का जनसंख्या घनत्व 324 व्यक्ित प्रति वगर् कि॰मी॰ था। जहाँ पश्िचम बंगाल का जनसंख्या घनत्व 904 व्यक्ित प्रति कि॰मी॰ है, वहीं अरुणाचल प्रदेश में यह 13 व्यक्ित प्रति कि॰मी॰ है। चित्रा 6.3 राज्यस्तरीय जनसंख्या घनत्व के असमान वितरण को दशार्ता है। ियाकलाप चित्रा 6.3 का अध्ययन कर इसकी तुलना चित्रा 2.4 एवं चित्रा 4.7 से करें। इन मानचित्रों के बीच क्या आपको कोइर् संबंध नजर आता है? 250 व्यक्ित प्रति वगर् कि॰मी॰ से कम जनसंख्या घनत्व वाले राज्यों के नाम बताइए। पवर्तीय क्षेत्रा तथा प्रतिवूफल जलवायवी अवस्थाएँ इन क्षेत्रों की विरल जनसंख्या के लिए उत्तरदायी है। किस राज्य का जनसंख्या घनत्व 100 व्यक्ित प्रति वगर् कि॰मी॰ से भी कम है और क्यों? असम एवं अिाकतर प्रायद्वीपीय राज्यों का जनसंख्या घनत्व मध्यम है। पहाड़ी, कटे - छँटे एवं पथरीले भूभाग, मध्यम से कम वषार्, छिछली एवं कम उपजाऊ मिट्टी इन राज्यों के जनसंख्या घनत्व को प्रभावित करती है। उत्तरी मैदानी भाग एवं दक्ष्िाण में केरल का जनसंख्या घनत्व बहुत अिाक है, क्योंकि यहाँ समतल मैदान एवं उपजाऊ मिट्टी पायी जाती है तथा पयार्प्त मात्रा में वषार् होती है। उत्तरी मैदान के अिाक जनसंख्या घनत्व वाले तीन राज्यों के नाम बताएँ। जनसंख्या 57 जनसंख्या वृि एवं जनसंख्या परिवतर्न की प्रिया जनसंख्या एक परिवतर्नशील प्रिया है। आबादी की संख्या, वितरण एवं संघटन में लगातार परिवतर्न होता है। यह परिवतर्न तीन प्रियाओं - जन्म, मृत्यु एवं प्रवास के आपसी संयोजन के प्रभाव के कारण होता है। जनसंख्या वृि जनसंख्या वृि का अथर् होता है, किसी विशेष समय अंतराल में, जैसे 10 वषोंर् के भीतर, किसी देश/राज्य के निवासियों की संख्या में परिवतर्न। इस प्रकार के परिवतर्न को दो प्रकार से व्यक्त किया जा सकता है। पहला, सापेक्ष वृि तथा दूसरा, प्रति वषर् होने वाले प्रतिशत परिवतर्न के द्वारा। प्रत्येक वषर् या एक दशक में बढ़ी जनसंख्या, वुफल संख्या में वृि का परिमाण है। पहले की जनसंख्या ;जैसे 1991 की जनसंख्याद्ध को बाद की जनसंख्या ;जैसे 2001 की जनसंख्याद्ध से घटा कर इसे प्राप्त किया जाता है। इसे ‘निरपेक्ष वृि’ कहा जाता है। जनसंख्या की वृि का दर दूसरा महत्त्वपूणर् पहलू है। इसका अध्ययन प्रति वषर् प्रतिशत में किया जाता है, जैसे प्रति वषर् 2 प्रतिशत वृि की दर का अथर् है कि दिए हुए किसी वषर् की मूल जनसंख्या में प्रत्येक 100 व्यक्ितयों पर 2 व्यक्ितयों की वृि। इसे वाष्िार्क वृि दर कहा जाता है। भारत की आबादी 1951 में 3ए610 लाख से बढ़ कर 2001 में 10ए280 लाख हो गइर् है। सारणी 6.1ः भारत की जनसंख्या वृि का परिमाण एवं दर वषर् वुफल एक दशक वा£षक वृि जनसंख्या में सापेक्ष दर ;लाख मेंद्ध वृि ;लाख मेंद्ध ;प्रतिशतद्ध 1951 361ण्0 42ण्43 1ण्25 1961 439ण्2 78ण्15 1ण्96 1971 548ण्2 108ण्92 2ण्20 1981 683ण्3 135ण्17 2ण्22 1991 846ण्4 163ण्09 2ण्14 2001 1028ण्7 182ण्32 1ण्93 सारणी 6.1 एवं चित्रा 6.4 दशार्ता है कि 1951 से 1981 तक जनसंख्या की वाष्िार्क वृि दर नियमित रूप से बढ़ रही थी। ये जनसंख्या में तीव्र वृि की व्याख्या करता है, जो 1951 में 3ए610 लाख से 1981 में 6ए830 लाख हो गइर्। ऽ सारणी 6.1 से पता चलता है कि वृि दर में कमी के बावजूद प्रत्येक दशक लोगों की संख्या में नियमित रूप से वृि हो रही है। ऐसा क्यों? किंतु 1981 से वृि दर धीरे - धीरे कम होने लगी। इस दौरान जन्म दर में तेजी से कमी आइर्, पिफर भी केवल 1990 में कुल जनसंख्या में 1ए820 लाख की वृि हुइर् थी ;इतनी बड़ी वाष्िार्क वृि इससे पहले कभी नहीं हुइर्द्ध। 12 2ण्5 10 2 8 1ण्5 6 1 4 0ण्5 2 कुल जनसंख्या वाष्िार्क वृि 00 1951 1961 1971 1981 1991 2001 वषर् वाष्िार्क वृि दर ;प्रति॰ मेंद्धजनसंख्या ;लाख मेंद्धचित्रा 6.4: भारत - वुफल जनसंख्या एवं जनसंख्या वृि दर 1951 - 2001 जनसंख्या 59 परिश्िाष्ट अध्याय 6ः जनसंख्या’ ऽ पृष्ठ 56, काॅलम 2, पंक्ित 17 - 19 माचर् 2011 तक भारत की जनसंख्या 12,100 लाख थी, जो कि विश्व की वुफल जनसंख्या का 16.7 प्रतिशत थी। यह 12.1 करोड़ लोग भारत के ..ऽ पृष्ठ 57, काॅलम 1, पंक्ित 1 - 3 2011 की जनगणना के अनुसार देश की सबसे अध्िक जनसंख्या वाला राज्य उत्तर प्रदेश है जहाँ की वुफल आबादी 1,990 लाख है। ऽ पृष्ठ 57, काॅलम 1, चित्रा 6.1 भारत की जनसंख्या - 17.5» शेष विश्व - 82.5» ऽ पृष्ठ 57, काॅलम 1, पंक्ित 5 - 7 सिक्िकम की आबादी केवल 6 लाख ही है तथा लक्षद्वीप में केवल 64,429 लोग निवास करते हैं। ऽ पृष्ठ 57, काॅलम 1, पंक्ित 11 - 12 राजस्थान सबसे बड़ा राज्य है, जिसकी आबादी भारत की जनसंख्या का केवल 6 प्रतिशत है। ण् ऽ पृष्ठ 57, काॅलम 1, चित्रा ‘6.2 जनसंख्या वितरण’। चित्रा 6.2: जनसंख्या वितरण ’ 2011 के लिए केवल अस्थायी आकड़े उपलब्ध् हैं। इसलिए डेटा/विश्लेषण अस्थायी हैं। ड्डोतः भारत की जनगणना 2011 परिश्िाष्ट 67 ऽ पृष्ठ 57, काॅलम 2, पंक्ित 6 - 9 2011 में भारत की जनसंख्या घनत्व 382 व्यक्ित प्रति वगर् कि.मी. था। जहां बिहार का जनसंख्या घनत्व 1,102 व्यक्ित प्रति वगर् कि.मी. है, वही अरूणाचल प्रदेश में यह 17 व्यक्ित प्रति कि.मी. है। ऽ पृष्ठ 58, चित्रा 6.3 भारत जनसंख्या घनत्व 2011 ’नोटः आंध््र प्रदेश राज्य के पुनगर्ठन के बाद, 2 जून 2014 को तेलंगाणा भारत का 29वाँ राज्य बना। चित्रा 6.3: भारत जनसंख्या घनत्व 2011 समकालीन भारत

RELOAD if chapter isn't visible.