पुष्प के परागकण उसी पादप के किसी अन्य पुष्प के वतिर्काग्र पर गिरते हैं, तो इसे पर - परागण कहते हैं ¹चित्रा 12.10 ;ंद्ध और ;इद्धह्। निषेचन नर तथा मादा युग्मकों के युग्मन ;संयोगद्ध द्वारा बनी कोश्िाका युग्मनज़्ा कहलाती है। युग्मनज बनाने के लिए नर और मादा युग्मकों के युग्मन का प्रक्रम निषेचन कहलाता है ;चित्रा 12.11द्ध। युग्मनज़भ्रूण में विकसित होता है। ;इद्ध चित्रा 12.12 ;ंद्ध सेब का एक भाग ;इद्ध बादाम 12.4 बीज प्रकीणर्न प्रकृति में एक ही प्रकार के पादप विभ्िान्न स्थानों पर उगे हुए पाए जाते हैं। ऐसा बीजों के विभ्िान्न स्थानों पर प्रकीणर्न के कारण होता है। कभी - कभी किसी वन अथवा खेत या पिफर उद्यान में चहलकदमी करते समय आपको अपने वस्त्रों पर पफलों के बीज चिपके दिखाइर् दिए होंगे। क्या आपने कभी यह जानने का प्रयास किया है कि ये बीज आपके वस्त्रों पर वैफसे चिपक जाते हैं? कल्पना कीजिए कि किसी पादप के सभी बीज एक ही स्थान पर गिरकर वहीं उग आए। आपके विचार में इस परिस्िथति में क्या होगा? पादप के नवोद्भ्िादों ;नए उगे पौध्ेद्ध के बीच ध्ूप, जल, खनिजों और स्थान के लिए गंभीर स्पधर् होगी। संभवतः उनमें से कोइर् भी स्वस्थ पादप के रूप में विकसित नहीं होगा। पादपों को बीजों के प्रकीणर्न से लाभ होता है। इससे एक ही प्रकार के पादप के नवोद्भ्िादों में सूयर् के प्रकाश, जल और खनिजों के लिए परस्पर स्पधर् की संभावना कम हो जाती है। प्रकीणर्न पादप को व्यापक विज्ञान प्रमुख शब्द आपने क्या सीखा विज्ञान

RELOAD if chapter isn't visible.