श्िाक्षण बिंदु औ ौ ण ध् ष औरतधगा बाण 2. पहचानो और बोलो 3.सुनो और बोलो 4.बार - बार बोलो 5.नीचे दिए गए वणर्/मात्रा को लिखने का अभ्यास करो ध्नुष 39 योग्यता विस्तार ऽ श्िाक्षण बिंदु में दिए गए सभी वणोर्ं और मात्राओं को श्यामपट पर लिखेंगे और विद्याथ्िर्ायों से बारी - बारी उनकी पहचान करवाएँगे। ऽ नीचे दिए गए चित्रों को देखकर विद्याथीर् खाली स्थान को भरेंगे। श्िाक्षण बिंदु तुम आओ आप आइए दो / लो दीजिए / लीजिए मत लाओ न लाइए 1.अध्यापक वाक्य बोलेंगे और विद्याथीर् सुनेंगे 1.शाहिद, तुम यहाँँ आओ। 2.आप अंदर आइए।़3.जोसपफ, अपनी काॅपी लाओ, किताब मत लाओ।4.इर्शान, पैसा दो और किताब लो।5.आप गाड़ी अंदर न लाइए। 2.अध्यापक वाक्य बोलेंगे और विद्याथीर् एक साथ वाक्य दोहराएँगे 1.रामन, तुम यहाँँ आओ। 2.सलमा, तुम भी आओ। 3.सरोज, एक कहानी सुनाओ। 4.महेश जी, आप यहाँॅ बैठिए। 5.आप हमें गण्िात बताइए। 6.तुम लोग शोर मत करो। 7.आप संगीत सुनिए। 8.ठंडा दूध् न पीजिए। 9.तुम यह चाय मत पिओ। 10.आप थोड़ी देर आराम कीजिए। 3. नमूने के अनुसार वाक्य बदलो ;कद्ध नमूनाः तुम अपना पाठ पढ़ो। आप अपना पाठ पढि़ए। तुम अपने घर जाओ। आप अपने घर जाइए। तुम जलेबी खाओ। ;खद्ध नमूनाः तुम यह किताब मत लो। आप यह किताब न लीजिए। तुम काॅपफी मत पिओ । कक्षा में शोर मत करो। तुम पैसे मत दो। योग्यता विस्तार ऽ कक्षा की वस्तुओं को दिखाते हुए विद्याथीर् आपस में बातचीत करें, जैसेμ तुम यहाँ आओ। आप यहाँ आइए। वहाँ से किताब लाओ। बेंच पर बैठिए। ऽ अध्यापक विद्याथ्िर्ायों से कक्षा से बाहर की परिस्िथतियों में वातार्लाप कराएँ, जिसमें पिछले अभ्यास के बातचीत में हुइर् कमियों की ओर भी विद्याथ्िर्ायों का ध्यान दिलाएँ जैसे - करो/कीजिए, पिओ/पीजिए जैसी ियाओं का प्रयोग हो।

RELOAD if chapter isn't visible.