श्िाक्षण बिंदु ऐ ै झ ढ ढ़ थ पफ थैला झरनाऐनक झरना 33 2. पहचानो और बोलो 3.सुनो और बोलो 4.बार - बार बोलो 5.नीचे दिए गए वणो± को लिखने का अभ्यास करो 6. चित्रों के नाम लिखो योग्यता विस्तार ऽ एक स्थान पर चित्रा और दूसरे स्थान पर वणो± वेेफ काडर् रखे होंगे। एक विद्याथीर् एक स्थान से कोइर् चित्रा उठाएगा और दूसरे विद्याथीर् उसके अनुसार वणो± के काडर् चुनकर शब्द बनाएँगे। झरना 35 श्िाक्षण बिंदु मैं हूँ / तुम हो/यह / वह है ये/वेे हैं हम/आप 1.अध्यापक वाक्य बोलेंगे और विद्याथीर् सुनेंगे मैं अध्यापक हूँ । हम भारतीय हैं। तुम विद्याथीर् हो। आप कौन हैं? तुम राजन हो। वह डाकिया है। यह लड़की है। यह मेरा भाइर् है। यह नलिनी है। वे मेरे पिता जी हैं। आप कौन हैं? ये मेरे चाचा जी हैं। 2.अध्यापक वाक्य बोलेंगे तथा सभी विद्याथीर् एक साथ दोहराएँगे अध्यापक विद्याथीर्तुम कौन हो? तुम कौन हो? मैं विद्याथीर् हॅँू। मैं विद्याथीर् हूँ। आप कौन हैं? आप कौन हैं? मैं अध्यापक हूँ। मैं अध्यापक हूँ। हम सब विद्याथीर् हैं। हम सब विद्याथीर् हैं। हम सब भारतीय हैं। हम सब भारतीय हैं। वह मेरा भाइर् है। वह मेरा भाइर् है। यह मेरी बहन है। यह मेरी बहन है। वे कौन हैं? वे कौन हैं? वे भी अध्यापक हैं। वे भी अध्यापक हैं।ये हमारे साथी हैं। ये हमारे साथी हैं। 3.प्रश्नोत्तर अभ्यास अध्यापक प्रश्न पूछेंगे और विद्याथीर् उत्तर देंगेμ तुम कौन हो? यह कौन है? वह लड़का कौन है? आप का घर कहाँॅ है? ये लोग कौन हंै? क्या, ये तुम्हारे पिता जी हैं? योग्यता विस्तार मैं विद्याथीर् हूँ। मेरा नाम अनिल है।यह सरिता है। यह मेरी बहन है।वह गोपाल है। वह मेरा भाइर् है।हमारा घर गाँध्ी नगर मंे है।वे लोग जापानी हैं।जी हाँँ, ये मेरे पिता जी हैं। ऽ उफपर दिए गए संवादों के अनुसार विद्याथीर् आपस में संवाद करेंगे। ऽ घर में आए हुए सहपाठी से अपने परिवारजनों का परिचय करवाएँगे। ऽ विद्याथ्िर्ायों को छोटे - छोटे समूह में बाँटकर वुफछ विषय बातचीत के लिए दिए जाएँ। जैसे - घर, परिवार, भारत। अध्यापक उनकी बातचीत को दूर से ही ध्यानपूवर्क सुनें।

>Chapter_6>
Durva-006

छठा पाठ

झरना


शिक्षण बिंदु

एे    ै  झ   ढ   ढ़   थ   फ


एेनक एे न क


थैला थै ला


झरना झ र ना


फल फ ल

सीढ़ी सी ढ़ी


ढोलक ढो ल क

शिक्षण संकेत 

  • श्यामपट पर झरना लिखें और उसका चित्र दिखाते हुए विद्यार्थियों से बार-बार बुलवाएँ।
  • इसी तरह एेनक, फल, थैला, ढोलक, सीढ़ी के चित्र दिखाएँ। वर्णों की अलग-अलग पहचान करवाते हुए बार-बार बुलवाएँ।


2. पहचानो और बोलो

थैला फल
एेनक
ढोलक
सीढ़ी झरना
 एे
 ढी

  

3. सुनो और बोलो

फल
एेसा
झाँकी
थन
एेनक
एेरावत
फूल
कैसा
झाँसी
फन
झलक
भारतीय
फिर
पैसा
झाड़ी
थाना
ढोलक
झटपट
ढाक
मैदा
सीढ़ी
दाना
मेंढक
झुनझुना
दाल
बैल
झूला
हाथी
फाटक
फुटबाल
साल
भैंस
झोला साथी
फावड़ा
थुलथुला


4. बार-बार बोलो

डाल-ढाल बला-भला
मकान-महान
जेल-झेल
चाल-जाल कमला-गमला


5. नीचे दिए गए वर्णों को लिखने का अभ्यास करो

6.1

6. चित्रों के नाम लिखो


..........................................................

.........................................................

.........................................................
.........................................................

..........................................................

.........................................................


योग्यता विस्तार

  • एक स्थान पर चित्र और दूसरे स्थान पर वर्णों केे कार्ड रखे होंगे। एक विद्यार्थी एक स्थान से कोई चित्र उठाएगा और दूसरे विद्यार्थी उसके अनुसार वर्णों के कार्ड चुनकर शब्द बनाएँगे।

मौखिक पाठ

शिक्षण बिंदु

मैं हूँ / तुम हो/यह / वह है ये / वेे हैं हम / आप


1. अध्यापक वाक्य बोलेंगे और विद्यार्थी सुनेंगे

मैं अध्यापक हूँ ।

तुम विद्यार्थी हो।

तुम राजन हो।

यह लड़की है।

यह नलिनी है।

आप कौन हैं?

हम भारतीय हैं।

आप कौन हैं?

वह डाकिया है।

यह मेरा भाई है।

वे मेरे पिता जी हैं।

ये मेरे चाचा जी हैं।


2. अध्यापक वाक्य बोलेंगे तथा सभी विद्यार्थी एक साथ दोहराएँगे

अध्यापक विद्यार्थी

तुम कौन हो? तुम कौन हो?

मैं विद्यार्थी हॅूँ। मैं विद्यार्थी हूँ।

आप कौन हैं? आप कौन हैं?

मैं अध्यापक हूँ। मैं अध्यापक हूँ।

हम सब विद्यार्थी हैं। हम सब विद्यार्थी हैं।

हम सब भारतीय हैं। हम सब भारतीय हैं।

वह मेरा भाई है। वह मेरा भाई है।

यह मेरी बहन है। यह मेरी बहन है।

वे कौन हैं? वे कौन हैं?

वे भी अध्यापक हैं। वे भी अध्यापक हैं।

ये हमारे साथी हैं। ये हमारे साथी हैं।


3. प्रश्नोत्तर अभ्यास

अध्यापक प्रश्न पूछेंगे और विद्यार्थी उत्तर देंगे–

अध्यापक
विद्यार्थी
तुम कौन हो?  मैं विद्यार्थी हूँ।

मेरा नाम अनिल है।
यह कौन है? यह सरिता है।

यह मेरी बहन है।
वह लड़का कौन है? वह गोपाल है।

वह मेरा भाई है।
आप का घर कहाँ  है? हमारा घर गाँधी नगर में है।
ये लोग कौन हैं?  वे लोग जापानी हैं।
क्या, ये तुम्हारे पिता जी हैं? जी हाँ, ये मेरे पिता जी हैं।


योग्यता विस्तार

  • ऊपर दिए गए संवादों के अनुसार विद्यार्थी आपस में संवाद करेंगे।
  • घर में आए हुए सहपाठी से अपने परिवारजनों का परिचय करवाएँगे।
  • विद्यार्थियों को छोटे-छोटे समूह में बाँटकर कुछ विषय बातचीत के लिए दिए जाएँ। जैसे- घर, परिवार, भारत। अध्यापक उनकी बातचीत को दूर से ही ध्यानपूर्वक सुनें।


RELOAD if chapter isn't visible.