आज हम अहमदाबाद से लगभग 18 किलोमीटर दूर अडालज की बावड़ी को देखने जा रहे थे। हम सभी आती - जाती गाडि़यों को गिन रहे थे। कोइर् साइकिलें गिन रहा था तो कोइर् बसें। कोइर् कारों की गिनती कर रहा था तो कोइर् मोटरसाइकिलों की। अब्राहम साइकिलें गिनने में बोर हो रहा था क्योंकि इस हाइवे पर साइकिलें तो इक्का - दुक्का ही नशर आ रही थीं। व्रफी {{{{{ च! हम चैंक गए। हमारी बस ने लाल बत्ती पर ब्रेक लगाइर्। यह एक बड़ा - सा चैराहा था। मैं चारों तरप़्ाफ गाडि़यों की लंबी कतारंे देख रहा था। पों - पों - पों का शोरगुल। कितना ध्ुँआ! शायद उसी ध्ुँए से परेशान होकर रिक्शे में बैठा एक बच्चा शोर - शोर से खाँस रहा था। मुझे अजीब - सी बू आ रही थी, जैसी गाँव में बाबा के चित्रा देखकर लिखो ऽ कौन - कौन - सी गाडि़याँ दिख रही हैं? ऽ ये किस - किस चीश से चलती होंगी? ऽ चित्रा में दिए गए जिस - जिस वाहन में से ध्ुँआ नहीं निकलता, उस पर लाल निशान लगाओ। बताओ ऽ क्या तुम साइकिल चलाते हो? यदि हाँ, तो उससे कहाँ - कहाँ जाते हो? ऽ तुम स्वूफल किस तरह आते हो? ऽ तुम्हारे परिवार के लोग घर से बाहर काम पर वैफसे - वैफसे जाते हैं? पेट्रोल पंप पर वुफछ दूर जाने के बाद ड्राइवर ने तेल भरवाने के लिए बस एक पेट्रोल पंप पर रोक दी। गाडि़यों की कतार देखकर हमें लगा कि हमारा नंबर काप़्ाफी देर से आएगा। सब बस से नीचे उतरकर पेट्रोल पंप पर ही घूमने लगे। वहाँ पर कइर् बोडर् और बड़े - बड़े पोस्टर भी लगे थे। पोस्टर पर लिखे नारे हम समझ नहीं पाए कि तेल का भंडार सीमित क्यों है? हमने सोचा, चलो पेट्रोल डालने वाले भइया से पूछते हैं। अब्राहमμभइया, यह तेल कहाँ से मिलता है? पेट्रोल डालने वाले भइयाμ शमीन के बहुत - बहुत नीचे से। मंजुμशमीन के नीचे! वहाँ वैफसे बनता है? भइयाμयह शमीन के नीचे बहुत ध्ीरे - ध्ीरे अपने - आप ही बनता रहता है। कोइर् मशीन या आदमी नहीं बनाते इसे। अब्राहमμतब तो हम खरीदने की बजाए खुद निकाल लें, बोरिंग या पंप लगाकर, 112 आस - पास पानी की तरह। भइयाμयह हर जगह नहीं होता। देश में वुफछ ही जगह तेल निकलता है। ़पता करो ऽ भारत में तेल के भंडार किस - किस राज्य में हैं? ऽ शमीन के बहुत अंदर से तेल के अलावा और क्या - क्या मिलता है? आगे की बातचीत दिव्याμपेट्रोल खत्म होने वाला है क्या? पोस्टर पर लिखा था कि भंडार सीमित हैं। भइयाμहम जितनी तेशी से तेल निकाल रहे हैं उतनी तेशी से वह बन नहीं रहा है। वैसे भी इसके बनने में लाखों - लाखों साल लग जाते हैं। अब्राहमμअगर तेल खत्म हो गया तो गाडि़याँ चलेंगी वैफसे? मंजुμसी.एन.जी. से। मैंने टी.वी. पर देखा था। इससे ध्ुँआ भी कम होता है। भइयाμ;हँसते हुएद्ध अरे! वह भी तो शमीन से ही मिलती है और सीमित ही है। दिव्याμबिजली से भी तो गाडि़याँ चलती हैं। मैंने बैटरी से चलने वाली साइकिल देखी है। अब्राहमμवुफछ - न - वुफछ तो करना ही होगा। वरना हम बड़े होकर गाडि़याँ वैफसे चलाएँगे। दिव्याμअगर गाडि़याँ कम चलेंगी तो मेरी दादी खुश हो जाएँगी। वे कहती हैं, फ्तौबा, चींटियों की तरह आज गाडि़यों की कतारें ही कतारें हैं। आगे चलकर तुम्हारा क्या होगा!य् मंजुμहाँ! देखो न, श्यादातर गाडि़यों में एक - दो ही लोग बैठे हैं। सब बस में क्यों नहीं जाते? अब्राहमμहाँ पेट्रोल तो बचेगा। एक बस में तो कितने ही लोग जा सकते हैं। मंजुμमैं बड़ी होकर कोश्िाश करूँगी कि हम सूरज की किरणों से गाडि़याँ चला सवेंफ। पिफर खत्म होने का कोइर् चक्कर ही नहीं! जितना मशीर् इस्तेमाल करो। जाकर बाबा से शरूर बात करूँगा! लिखो ऽ गाड़ी चलाने के लिए किस - किस चीश का इस्तेमाल हो सकता है? ऽ अगर इसी तरह सड़कों पर वाहनों की संख्या बढ़ती रही, तो क्या - क्या समस्याएँ हो सकती हैं? जैसेμसड़क पर ट्रैप्ि़ाफक बढ़ जाएगा। बड़ों से बात करके अपने विचार लिखो। ऽ मंजु ने कहा, फ्सब बस में क्यों नहीं जाते?य् सभी लोग बस में सपफर क्यों नहीं़करते? ऽ सड़कों पर वाहनों की बढ़ती संख्या से आइर् परेशानियों को कम करने के लिए पता करो और लिखो कितना तेल लगे? स्वूफटर कार ट्रैक्टर ये एक बार में कितना पेट्रोल/ डीशल भर पाए? ये एक लीटर पेट्रोल/डीशल से कितनी दूर जाए? हर शहर में पेट्रोल की कीमत अलग होती है। इस तालिका में चेन्नइर् में पेट्रोल औरडीशल की कीमत दी गइर् हैं। इसे देखकर नीचे दिए गए प्रश्नों के उत्तर दो। तेल सन् 2002 में एक सन् 2007 में एक लीटर की कीमत ;लगभगद्ध लीटर की कीमत ;लगभगद्ध पेट्रोल रु. 28 रु. 47 डीशल रु. 18 रु. 33 ऽ सालों में पेट्रोल की कीमत रुपए बढ़ी और डीशल की कीमत रुपए बढ़ी। ऽ सन् 2007 में डीशल और पेट्रोल की कीमत में क्या अंतर था? पता करो ऽ तुम्हारे इलाके में आजकल पेट्रोल और डीशल की कीमत क्या है? ऽ पेट्रोल और डीशल की कीमत क्यों बढ़ रही है? ऽ तुम्हारे घर में एक महीने में कितना पेट्रोल और डीशल खचर् होता है? किस - किस काम में? ऽ एक पोस्टर नीचे दिया हुआ है। खत्म हो जाए तो...? 115 रोशनी में ड्राइर्क्लीनिंग में पेट्रोल, डीशल औरवायुयान ईंध्न के रूप में मैं छिपा हूँ, कहाँ - कहाँ? मि‘ी के तेल औरगैस के रूप में प्लास्िटक, रंग - रोगन में मशीनों में फ्तेल की बचत, आपकी आदतय् पोस्टर को देखकर लिखो ऽ तेल का इस्तेमाल कहाँ - कहाँ होता है? ऽ डीशल कहाँ - कहाँ इस्तेमाल किया जाता है? पता करो दिव्या ने बस में ही एक कविता लिखकर सबको सुनाइर्। पढ़ो और चचार् करो। क्या होगा? ऽ तेल बचाने के तरीके सुझाओ। घर में चूल्हा वैफसे जले दुगार् हरियाणा के एक गाँव में रहती है। दिन के कइर् घंटे उसके चूल्हे के लिए लकडि़याँ इकऋी करने में चले जाते हैं। उसकी बेटी को भी उसकी मदद करनी पड़ती है। दुगार् को कइर् महीनों से खाँसी है। सीली हुइर् लकडि़याँ जलाने में ध्ुँआ भी बहुत होता है। लेकिन दुगार् के पास कोइर् और चारा भी तो नहीं। जब खाना जुटाने के पैसे ही नहीं तो उसे पकाने के लिए पैसे कहाँ से लाएँ? चचार् करो ऽ क्या तुमने कभी सूखी लकडि़याँ इकऋी की हैं या उपले बनाए हैं? उपले वैफसे बनाते हैं? ऽ क्या तुम किसी को जानते हो जो चूल्हे जलाने के लिए गिरी हुइर् सूखीटहनी या पत्ते इकऋे करते हैं? खत्म हो जाए तो...? 117 ऽ तुम्हारे घर में और आस - पास खाना बनाने की िाम्मेदारी किसकी है? ऽ अगर वे लकड़ी या उपलों पर खाना पकाते हैं तो ध्ुँए से किस तरह की परेशानी होती होगी? ऽ क्या दुगार् लकड़ी की जगह किसी और चीश का इस्तेमाल कर सकती है? क्यों नहीं? आज हमारे देश के लगभग 2/3 ;दो - तिहाइर्द्ध लोग उपले, लकड़ी, सूखी टहनियाँ आदि का इस्तेमाल करते हैं। केवल खाना पकाने के लिए ही नहीं, आग सेंकने, पानी गरम करने और रोशनी के लिए भी। घर के अलग - अलग कामों के लिए कइर् और चीशों का भी इस्तेमाल होता है जैसेμकेरोसिन, एल.पी.जी;खाना पकाने की गैसद्ध, कोयला, बिजली, आदि। काँचा ने एक किताब में यह बार चाटर् देखा। इस बार चाटर् में दिखाया है कि अगर 100 घरों को देखें तो उनमें से कितनों में किस ईंध्न का इस्तेमाल होता है। चाटर् यह भी दिखाता है कि बीस सालों में किस चीश का इस्तेमाल बढ़ा और किसका घटा। बीस साल में बदलाव μ देश में सन् 1976 में 100 में से कितने घरों में उपले और लकड़ी का इस्तेमाल होता था? μ 1976 में सबसे कम किसका इस्तेमाल हो रहा था? 118 आस - पास μ 1976 में एल.पी.जी. और केरोसिन का इस्तेमाल घरों में था जो 1996 में बढ़कर हो गया। यानी बीस सालों में इनका इस्तेमाल प्रतिशत बढ़ा। μ 1996 में 100 में से कितने घरों में बिजली का इस्तेमाल हो रहा था? μ 1996 में किसका इस्तेमाल सबसे कम था? 1976 में यह कितने प्रतिशत घरों में अपने घर में बड़ों से पता करो ऽ जब वे बच्चे थे तब उनके परिवार में खाना पकाने के लिए किन चीशों का इस्तेमाल होता था? ऽ पिछले दस सालों में तुम्हारे इलाके में खाना पकाने के लिए किस चीश का इस्तेमाल बढ़ा है और किस चीश का घटा है? ऽ अनुमान से बताओ अगले दस सालों में किस चीश का इस्तेमाल बढ़ेगा और खत्म हो जाए तो...? 119

RELOAD if chapter isn't visible.