2 जैसा सवाल वैसा जवाब बादशाह अकबर अपने मंत्राी बीरबल को बहुत पसंद करता था। बीरबल की बुि के आगे बड़े - बड़ों की भी वुफछ नहीं चल पाती थी। इसी कारण वुफछ दरबारी बीरबल से जलते थे। वे बीरबल को मुसीबत में पँफसाने के तरीके सोचते रहते थे। अकबर के एक खास दरबारी ख्वाजा सरा को अपनी विद्या और बुि पर बहुत अभ्िामान था। बीरबल को तो वे अपने सामने निरा बालक और मूखर् समझते थे। लेकिन अपने ही मानने से तो वुफछ होता नहीं! दरबार में बीरबल की ही तूती बोलती और ख्वाजा साहब की बात ऐसी लगती थी जैसे नक्कारखाने में तूती की आवाज़्ा। ख्वाजा साहब की चलती तो वे बीरबल को हिंदुस्तान से निकलवा देते लेकिन निकलवाते वैफसे! एक दिन ख्वाजा ने बीरबल को मूखर् साबित करने के लिए बहुत सोच - विचार कर वुफछ मुश्िकल प्रश्न सोच लिए। उन्हें विश्वास था कि बादशाह के उन प्रश्नों को सुनकर बीरबल के छक्के छूट ँजाएगे और वह लाख कोश्िाश करके भी संतोषजनकउत्तर नहीं दे पाएगा। पिफर बादशाह मान लेगा कि ख्वाजा सरा के आगे बीरबल वुफछ नहीं है। 6 ख्वाजा साहब अचकन - पगड़ी पहनकर दाढ़ी सहलाते हए अकबर केुपास पहुँचे और सिर झुकाकर बोले, फ्बीरबल बड़ा बुिमान बनता है। आप भी उसकी लंबी - चैडी बातों के धेखे में आ जाते हंै। मैं चाहता हकि आप़ूँ मेरे तीन सवालों के जवाब पूछकर उसके दिमाग की गहराइर् नाप लें। उस नकली अक्ल - बहादुर की कलइर् खुल जाएगी।य् ख्वाजा के अनुरोध् करने पर अकबर ने बीरबल को बुलाया और उनसे कहा, फ्बीरबल! परम ज्ञानी ख्वाजा साहब तुमसे तीन प्रश्न पूछना चाहते हैं।क्या तुम उनके उत्तर दे सकोगे?य् बीरबल बोले, फ्जहाँपनाह! ज़्ारूर दूँगा। खुशी से पूछें।य् ख्वाजा साहब ने अपने तीनों सवाल लिखकर बादशाह को दे दिए। अकबर ने बीरबल से ख्वाजा का पहला प्रश्न पूछा, फ्संसार का वेंफद्र कहाँ है?य् बीरबल ने तुरंत ज़्ामीन पर अपनी छड़ी गाड़कर उत्तर दिया, फ्यही स्थान चारों ओर से दुनिया के बीचों - बीच पडता है। यदि ख्वाजा साहब़को विश्वास न हो तो वे पफीते से सारी दुनिया़को नापकर दिखा दें कि मेरी बात गलत है।य् अकबर ने दूसरा प्रश्न किया, फ्आकाश में कितने तारे हैं?य् 7 बीरबल ने एक भेड़ मँगवाकर कहा, फ्इस भेड़ के शरीर में जितने बाल हैं, उतने ही तारे आसमान में हैं। ख्वाजा साहब को इसमें संदेह हो तो वे बालों को गिनकर तारों की संख्या से तुलना कर लें।य् अब अकबर ने तीसरा सवाल किया, फ्संसार की आबादी कितनी है?य् बीरबल ने कहा, फ्जहाँपनाह! संसार की आबादी पल - पल पर घटती - बढ़ती रहती है क्योंकि हर पल लोगों का मरना - जीना लगा ही रहता है। इसलिए यदि सभी लोगों को एक जगह इकऋा किया जाए तभी उनको गिनकर ठीक - ठीक संख्या बताइर् जा सकती है।य्बादशाह तो बीरबल के उत्तरों से संतुष्ट हो गया लेकिन ख्वाजा साहब नाक - भांैह सिकोडजवाबों से काम नहीं चलेगा जनाब!य् बीरबल बोले, फ्ऐसे सवालों के ऐसे ही जवाब होते हैं। पहले मेरे जवाबों को गलत साबित कीजिए, तब आगे बढि़ए।य् ख्वाजा साहब से पिफर वुफछ बोलते नहीं बना। ़कर बोले, फ्ऐसे गोलमोल 8 तुम्हारी बात ;कद्ध ख्वाजा सरा के तीनों सवालों का क्या कोइर् और जवाब हो सकता है? अपने मन से सोचकर लिखो। ;खद्ध अगर तुम ख्वाजा सरा की जगह पर होते तो बीरबल को हराने के लिए कौन - से सवाल पूछते? ;गद्ध ख्वाजा सरा का बस चलता तो वे बीरबल को ¯हदुस्तान से निकाल देते। अगर तुम्हारा बस चले तो तुम कौन - कौन सी इच्छाएँ पूरी करना चाहोगे? बस नीचे लिखे वाक्य पढ ़ ोμ ● मैं बस में बैठकर स्वूफल जाती हँू। ● ख्वाजा सरा का बस चलता तो वे बीरबल को निकाल देते। ● बस! अब रफक जाओ। ● बस दो दिन की तो बात है। मैं आ जाउँफगी। उफपर लिखे वाक्यों में बस शब्द के अथर् अलग - अलग हैं। अब इसी तरह चल शब्द से वाक्य बनाओ। ;संकेत चल, चल - चल, चला, चलें, चलना, चलती, चलोद्ध बढे़ कहानी एक दिन अकबर ने बीरबल से पूछा, ‘‘बीरबल, दुनिया में सबसे अध्िक शक्ितशाली कौन है?’’ बीरबल ने क्या कहा होगा? कहानी आगे बढ़ाओ। खोजो कहानियाँ बीरबल की चतुराइर् के किस्से बहुत मशहूर हैं। ;कद्ध तुम भी बीरबल का एक ऐसा ही किस्सा ढूँढ़ो जिसमें वह अपने जवाबों से सबका मुँह बंद कर देता है। ;खद्ध बीरबल की तरह बहत से अन्य व्यक्ितयों की हािारजवाबी के किस्सेुप्रसि( हैं। उनके नाम पता करो। एक और शब्द नीचे लिखे शब्दों की जगह और कौन - सा शब्द इस्तेमाल हो सकता है? खाली जगह में लिखो। मुहावरे नीचे लिखे मुहावरों का इस्तेमाल तुम कब - कब कर सकते हो? आपस में चचार् करो। अब इनका वाक्यों में इस्तेमाल करो। ऽ नाक - भौंह सिकोडना़ऽ कलइर् खुलना

RELOAD if chapter isn't visible.