11ण् मीरा बहन और बाघ मीरा बहन का जन्म इंग्लैंड में हुआ था। गांध्ी जी के विचारों का उन पर इतना असर हुआ कि वे अपना घर और अपने माता - पिता को छोड़कर भारत आ गईं और गांध्ी जी के साथ काम करने लगीं। आशादी के पाँच साल बाद उन्होंने उत्तर प्रदेश के एक पहाड़ी गाँव, गेंवली में गोपाल आश्रम की स्थापना की। उस आश्रम में मीरा बहन का बहुत सारा समय पालतू पशुओं की देखभाल में बीतता था लेकिन गेंवली गाँव के आसपास के जंगलों में बाघ जैसे खतरनाक जानवर भी रहते थे। पहाड़ी गाँवों में अक्सर बाघ का डर बना रहता है। जंगल कटने के कारण श्िाकार की तलाश में बाघ कभी - कभी गाँव तक पहुँच जाता है। गेंवली गाँव में एक बार यही हुआ। एक बाघ ने गाँव में घुसकर एक गाय को मार डाला। सुबह होते ही यह खबर पूरे गाँव में पैफल गइर्। गाँव के लोग डरे कि यह बाघ कहीं पिफर से आकर दूसरे पालतू जानवरों और किसी आदमी को ही अपना श्िाकार न बना ले। गाँव के लोग गोपाल आश्रम गए और उन लोगों ने मीरा बहन को अपनी चिंता बताइर्। गाँव के लोगों ने अंत में तय किया कि बाघ को वैफद कर लिया जाए। उसे वैफद करने के लिए उन्होंने एक पिंजड़ा बनाया। पिंजड़े के अंदर एक बकरी बाँध्ी। योजना यह थी कि बकरी का मिमियाना सुनकर बाघ पिंजड़े की तरप.फ आएगा। पिंजड़े का दरवाशा इस प्रकार खुला हुआ बनाया गया था कि बाघ के अंदर घुसते ही वह दरवाशा झटके से बंद हो जाए। शाम होने तक पिंजड़े को ऐसी जगह पर रख दिया गया जहाँ बाघ अक्सर दिखाइर् देता था। यह जगह मीरा बहन के गोपाल आश्रम से श्यादा दूर नहीं थी। रात बीती। सुबह की रोशनी होते ही लोग पिंजड़ा देखने निकल पड़े। उन्होंने दूर से देखा कि पिंजड़े का दरवाशा बंद है। वे यह सोचकर बहुत खुश हुए कि बाघ शरूर पिंजड़े में पँफस गया होगा लेकिन जब वे पिंजड़े के पास पहुँचे तो क्या देखते हैं दृ पिंजड़े में बाघ नहीं था! लोग चकित थे दृ बाघ के अंदर गए बिना पिंजड़ा बंद वैफसे हो गया? लोग मीरा बहन के पास पहुँचे। लोगों ने सोचा कि गोपाल आश्रम पास में ही था, इसलिए शायद मीरा बहन को मालूम हो कि रात में क्या हुआ। पूछने पर मीरा बहन बोलीं दृ देखो भाइर्, मुझे नींद नहीं आ रही थी। मैं सोचती रही कि आख्िार बाघ को धेखा देकर हम क्यों पँफसाएँ। इसलिए मैं गइर् और पिंजड़े का दरवाशा बंद कर आइर्। ऽ कहानी में बाघ को खतरनाक जानवर बताया गया है। नीचे दी गइर् सूची में सबसे खतरनाक चीश तुम्हारी समझ में क्या है और क्यों? ऽ मीरा बहन की बात सुनकर गाँव के लोगों को निराशा हुइर् होगी। उन्होंने मीरा बहन से क्या कहा होगा? सोचकर गाँव के लोगों की बातें लिखो। खतरनाक है या नहीं गेंवली गाँव के आसपास के जंगलों में बाघ जैसे खतरनाक जानवर भी रहते थे। तुम्हारे हिसाब से नीचे लिखे जंतुओं में से कौन - कौन खतरनाक जिनके नाम पर तुमने गोला लगाया, वे कब खतरनाक हो सकते हैं? पिंजड़ा ऽ चूहा पकड़ने का पिंजड़ा देखकर बताओ कि वह अपने आप वैफसे बंद हो जाता है और एक बार वैफद हो जाने के बाद चूहा उससे बाहर क्यों नहीं आ पाता? ऽ गाँव वालों ने बाघ को पिंजड़े में बंद करने की योजना बनाइर् थी। किसी आशाद पशु या पक्षी को पिंजड़ेे में बंद करके रखना सही है या गलत? क्यों? क्यों? वैफसे अपने मन से सोचकर लिखो, ऐसा वैफसे किया होगा? ऽ बाघ की खबर पूरे गाँव में पैफल गइर्। वैफसे? ऽ लोग मीरा बहन के पास पहुँचे। क्यों? ऽ पिंजड़ा बिना बाघ के बंद हो गया। वैफसे? बकरी कहे कहानी सोचो, अगर यह कहानी बकरी सुनाती, तो क्या - क्या बताती। उसकी कहानी मशेदार होती न? बकरी अपनी कहानी में क्या - क्या बताती? चलो, पकड़ें गाँववालों ने बाघ को पकड़ने के लिए एक योजना बनाइर् थी। कक्वूफ के घर में रोश बिल्ली आकर दूध् पी जाती है। कक्वूफ की मदद करने के लिए कोइर् योजना बनाओ। पाठ से आगे ये सभी चित्रा किसी एक व्यक्ित से जुड़े हुए हैं? पता करो कौन? कौन क्या है? ऽ बाघ, गाय, बकरी, हाथी और हिरण जानवर हैं। नीचे लिखी हुइर् चीशें क्या है? खाली जगहों में लिखो। ऽ अगरतला, अल्मोड़ा, रायपुर, कोच्िच, वडोदरा ऽ जलेबी, लîó, मैसूरपाक, कलावंफद, पेड़ाूऽ नमर्दा, कावेरी, सतलुज, ब्रह्मपुत्रा, यमुना ऽ बरगद, नारियल, पीपल, चीड़, नीम ऽ गेहूँ, बाजरा, चावल, रागी, मक्का ऽ वुफतार्, साड़ी, पि़फरन, लहँगा, कमीश कोयल वूफ - वूफ, बकरी में - में जानवरों की बोलियाँ तो तुमने सुनी ही होंगी। कोयल की बोली को जैसे वूफकना कहते हैं और मक्खी की बोली को भ्िानभ्िानाना, वैसे ही अन्य जानवरों की बोलियों के भी नाम हैं। नीचे दिए गए खाने में एक तरप.फ जानवरों के नाम हैं, दूसरी तरप.फ बोलियों के। ढूँढ़ निकालो कौन - सी बोली किसकी है? भैंस मिमियाना शेर रेंकना घोड़ा रँभाना गध रँभाना हाथी चिंघाड़ना गाय भौंकना बकरी हिनहिनाना वुफत्ता दहाड़ना ठीक करो हवाइर् जहाश आसमान उड़ रहा है। तुम्हें यह वाक्य वुफछ अटपटा लग रहा होगा। इस वाक्य को पिफर से पढ़ो। हवाइर् जहाश आसमान में उड़ रहा है। ऽ अब इसी तरह इन वाक्यों को ठीक करो। ऽ ध्ूप बैठकर ढोकला खाया। ऽ पुतुल काम करने मना कर दिया। ऽ लता सब मूँगपफली ख्िालाइर्। ऽ पहाड़ी गाँवों बाघ डर बना रहता है। ऽ अब वे सभी शब्द पिफर से लिखो जिन्हें तुमने जोड़ा है।

RELOAD if chapter isn't visible.