5. दोस्त की मदद किसी तालाब में एक कछुआ रहता था। तालाब के पास माँद में रहने वाली एक लोमड़ी से उसकी दोस्ती हो गइर्। एक दिन वे तालाब के किनारे गपशप कर रहे थे कि एक तेंदुआ वहाँ आया। दोनों अपने - अपने घर की ओर जान बचाकर भागे। लोमडमाँद में पहुँच गइर् पर कछुआ अपनी ध्ीमी चाल के कारण तालाब तक नहीं पहुँच सका। तेंदुआ एक छलाँग में उस तक पहुँच गया। ी तो सरपट दौड़़कर अपनी कछुए को कहीं छुपने का भी मौका न मिला। तेंदुए ने कछुए को मुँह में पकड़ा और उसे खाने के लिए एक पेड़ के नीचे चला गया लेकिन दाँतों और नाखूनों का पूरा ज़्ाोर लगाने पर भी कछुए के सख्त खोल पर खरोंच तक नहीं आइर्। लोमड़ँुी अपनी माद से यह देख रही थी। उसने कछए को बचाने की तरकीब सोची। उसने माँद से झाँककर बाहर देखा और भोलेपन के साथ बोलीμ तंेदुए जी, कछुए के खोल को तोड़ने का मैं आसान तरीका बताती हँू। इसे पानी में पेंफक दो। थोड़ी देर में पानी से इसका खोल नरम हो जाएगा। चाहो तो आजमाकर देख लो!़तेंदुए ने कहाμ ठीक है, अभी देख लेता हूँ! यह कहकर उसने कछुए को पानी में पेंफक दिया। बस पिफर क्या था, गया कछुआ पानी में! कहानी से ऽ लोमड़ी ने कछुए को बचाने का क्या उपाय सोचा? ऽ तेंदुए ने क्या मूखर्ता की? ऽ तेंदुए की इस मूखर्ता से कछुए को क्या पफायदा ह़ुआ? गपशप जब तेंदुआ आया तब कछुआ और लोमड़ी गपशप कर रहे थे। सोचो वे क्या बातंे कर रहे होंगे? यह तुम अपने दोस्त के साथ मिलकर सोचो। सोची गइर् गपशप पर तुम नाटक भी कर सकते हो। कछुआ चाल कछुआ बहुत ध्ीरे - ध्ीरे चलता है। इसलिए जो बहुत ध्ीरे चलता है उसके लिए हम कहते हैं - वह कछुए की तरह चलता है। अब बताओ इनके लिए क्या कहेंगेμ ऽ जो तेज़्ा भागता हो। वह ऽ जो बहुत अच्छा तैराक हो। ............................की तरह तैरता है।वह तुम्हारी समझ से जब तेंदुए ने कछुए को पकड़ा तब ऽ वह क्या सोच रहा होगा? ऽ उसने उस समय किसे याद किया होगा? खोल जैसा सख्त? ऽ बताओ कछुए के खोल जैसी सख्त चीज़्ों और क्या हो सकती हैं? ऽ लोमड़ी ने तेंदुए को कछुए का खोल तोड़ने का आसान तरीका बताया था। क्या तुम नारियल को तोड़ने का तरीका सुझा सकते हो? अब नीचे दिए शब्दों को बदलकर लिखोμ ऽ एक कपड़ा तीन ऽ एक रुपया पदं्रह ऽ एक खंभा चार ऽ एक पौध आठ ऽ एक पतीला दो ऽ एक संतरा दस किसकी चाल बताओ, ऐसे कौन - कौन चलता है? पुफदक - पुफदक कर चैकड़ी भरकर छलाँग लगाकर रेंग - रेंग कर मुलायम - नरम लोमड़ी ने तेंदुए को बताया था कि पानी में पेंफकने से कछुए का खोल मुलायम हो जाएगा। नीचे लिखी चीजों में से कौन - कौन सी चीज़्ों पानी में पेंफकने से़मुलायम हो जाएँगी? सही जगह पर लिखो। कागज़़्ा, लकडी, गिलास, रोटी,बिस्िकट, प्लेट, पत्ता, मोम, रूइर्, पापड़ मुलायम हो जाएँगी मुलायम नहीं हांेगी एक और कहानी एक मगरमच्छ था। वह लोमड़ी को खाना चाहता था। पर लोमड़ी थी बहुत चालाक। वह मगरमच्छ की पकड़ में ही नहीं आती थी। मगरमच्छ ने एक बार कछुए से मदद माँगी। कछुए ने कहाμलोमडहमेशा नदी पर पानी पीने आती है। क्यों न तुम उसे वहीं पकड़ लो! मगरमच्छ उस दिन नदी पर लोमड़ी का इंतजार करता रहा।़पूरी रात काट दी। पिफर पता चला कि ................................ऽ कहानी को अपने मन से आगे बढ़ाओ। ऽ कहानी का अपने मन से कोइर् नाम रखो। ़ी

RELOAD if chapter isn't visible.