सांख्ियकीय विध्ियों के उपयोग इस अध्याय को पढ़ने के बाद आप इस योग्य होंगे किः ऽ किसी परियोजना के निमार्ण के चरणों से परिचित हो सवेंफऋ ऽ किसी समस्या के विश्लेषण के लिए विविध् सांख्ियकीय विध्ियों के प्रयोग सीख सवेंफ। 1. प्रस्तावना आपने विविध् प्रकार की सांख्ियकीय विध्ियों के बारे में पढ़ा है। ये विध्ियाँ हमारे दैनिक जीवन के लिए महत्वपूणर् होती हैं और साथ ही आथ्िार्क गतिविध्ियों जैसे उत्पादन, उपभोग, वितरण, बैंकिंग, बीमा, व्यापार एवं परिवहन आदि से संबंध्ित आँकड़ों के विश्लेषण में उपयोगी होती हैं। इस अध्याय में, आप किसी परियोजना को तैयार करने की विध्ि के बारे में जानेंगे। इससे आप यह समझ सवेंफगे कि किस प्रकार अध्याय 9 सांख्ियकीय विध्ियों को विभ्िान्न प्रकार के विश्लेषणों में प्रयुक्त किया जा सकता है। उदाहरण के लिए, आप उपभोक्ताओं से किसी उत्पाद के बारे में या बाजार में किसी उत्पादक द्वारा शुरू किये गए किसी नए उत्पाद या सेवा के बारे में या विद्यालयों में सूचना - तकनीक के प्रसार के बारे में या ऐसा ही कोइर् और विश्लेषण कर सकते हैं। सवर्ेक्षण द्वारा किसी उत्पाद या प्रणाली को बेहतर बनाने के लिए सूचनाएँ एकत्रा कर रिपोटर् तैयार करने में सहायता मिलती है। परियोजना के चरण अध्ययन के क्षेत्रा या समस्या को पहचानना सबसे पहले आपको इस बारे में बिल्वुफल स्पष्ट होना चाहिए कि आपके अध्ययन का उद्देश्य क्या है। अपने उद्देश्य के आधर पर आप आँकड़ों के संग्रह एवं संसाध्न की दिशा में आगे बढ़ेंगे। उदाहरण के लिए, कार, मोबाइल - पफोन, जूता - पाॅलिश, नहाने के साबुन या कपड़ा धेने के पाउडर आदि किसी भी उत्पाद का उत्पादन या बिक्री आपके अध्ययन का क्षेत्रा हो सकता है। आप संभवतः किसी क्षेत्रा विशेष के निवासियों की बिजली या पानी की समस्या का हल निकालना चाहते हों। आप परिवारों के बीच उपभोक्ता जागरूकता अथार्त् ‘उपभोक्ताओं के अध्िकारों के बारे में जागरूकता’ के बारे में अध्ययन करना चाह सकते हैं। लक्ष्य समूह का चुनाव अध्ययन के लिए उपयुक्त प्रश्नों की एक प्रश्नावली बनाने के लिए लक्ष्िात समूह का चुनाव बहुत महत्वपूणर् होता है। यदि आप की परियोजना कार से संबंध्ित है, तब आपका लक्ष्य - समूह मुख्यतः मध्यम आय वगर् या उच्च आय वगर् होगा। उपभोक्ता उत्पाद, जैसे साबुन, आदि से जुड़े अध्ययन के लिए, आपको ग्रामीण एवं शहरी उपभोक्ताओं को अपना लक्ष्य बनाना होगा। सुरक्ष्िात पेयजल की उपलब्ध्ता के अध्ययन हेतु आप ग्रामीण एवं शहरी जनता - दोनों को ही अपना लक्ष्य बना सकते हैं। इसलिए, लक्ष्िात समूह का चुनाव, अथार्त् उस समूह की पहचान करना जिस पर आपको ध्यान वेंफदि्रत करना है, किसी भी परियोजना की रिपोटर् तैयार करने के क्रम में बहुत ही महत्वपूणर् चरण है। आँकड़ों का संकलन सवर्ेक्षण का उद्देश्य यह तय करने में सहायक होगा कि प्राथमिक आँकड़ों का उपयोग किया जाए या द्वितीयक आँकड़ों का या दोनों का। आप अध्याय 2 में पढ़ ही चुके हैं कि पहली बार आँकड़ों का संग्रह प्राथमिक विध्ि के उपयोग द्वारा किया जा सकता है, जिसके लिए किसी प्रश्नावली या साक्षात्कार अनुसूची का प्रयोग कर व्यक्ितगत साक्षात्कार, डाक सवर्ेक्षण, पफोन, इर् - मेल आदि के द्वारा आँकड़ें संगृहीत किए जा सकते हैं। डाक प्रश्नावली के साथ एक आवरण - पत्रा भी भेजा जाना चाहिए, जो पूछ - ताछ के उद्देश्य का विवरण देता हो। लक्ष्य समूह का आकार एवं विशेषता आपके उद्देश्य पर आधरित होती है। उदाहरण के लिए, महिला साक्षरता या विशेष प्रकार के ब्रांड के साबुन की खपत से संबंध्ित सवर्ेक्षण के लिए आपको प्रत्येक परिवार या घर से जानकारी लेनी होगी। द्वितीयक आँकड़े प्रकाश्िात या अप्रकाश्िात ड्डोतों ;किसी संगठन के निजी संग्रह द्वाराद्ध के माध्यम से सूचनाएँ उपलब्ध् करा सकते हैं, यदि ये आपकी आवश्यकताओं के अनुवूफल हों। द्वितीयक ड्डोत के आँकड़ों का प्रयोग प्रायः तब किया जाता है, जब समय, ध्न, एवं मानव - संसाध्न की कमी हो या सूचनाएँ आसानी से उपलब्ध् हों। यदि आँकड़े संकलन के लिए प्रतिदशर् विध्ि का उपयोग किया गया है, तो इसका ध्यान रखा जाना चाहिए कि यह उपयुक्त है या नहीं। आँकड़ों का संगठन एवं प्रस्तुतीकरण आँकड़ा - संग्रह के बाद, प्राप्त सूचनाओं को संसाध्ित करने की जरूरत होती है, जिसे सारणीयन एवं उपयुक्त आरेखों, जैसे दंड - आरेख, वृत्त - आरेख आदि द्वारा संगठित एवं प्रस्तुत किया जा सकता है, जिसके बारे में आप अध्याय 3 एवं 4 में पढ़ चुके हैं। विश्लेषण एवं व्याख्या वेंफद्रीय प्रवृिा की माप ;जैसे - माध्यद्ध, परिक्षेपण के माप ;जैसे मानक विचलनद्ध और सहसंबंध् आपको औसत, प्रसरणशीलता तथा सहसंबंधें ;यदि ये विद्यमान हैंद्ध के परिकलन के योग्य बनाएँगे। आप इन सभी मापों के बारे में अध्याय 5, 6 एवं 7 में जानकारी प्राप्त कर चुके हैं। उपसंहार आख्िारी चरण में विश्लेषण के बाद परिणामों की व्याख्या करनी होगी। यदि संभव हो तो विकास तथा सरकारी नीतियों आदि के विषय में संकलित आँकड़ों के आधर पर भावी परिदृश्य के पूवार्नुमान लगाने तथा सुझाव देने का प्रयास करें। ग्रंथ सूची इस अनुभाग में, आपको उन सभी द्वितीयक ड्डोतों जैसे पत्रिाकाओं, समाचार - पत्रों, शोध् रिपोटार्ें आदि के बारे में विवरण देने की जरूरत होती है, जिनका प्रयोग आपने परियोजना बनाते समय किया था। 2.परियोजनाओं की प्रस्तावित सूची यहाँ पर उदाहरण हेतु वुफछ परियोजनाओं का सुझाव दिया जा रहा है। आप इनमें से कोइर् भी शीषर्क/विषय - वस्तु चुन सकते हैं, जो आथ्िार्क मुद्दों से संब( हो। 1.स्वयं को ऐसे परिवहन मंत्राी का सलाहकार मानकर, जिसका उद्देश्य बेहतर एवं समन्िवत परिवहन व्यवस्था को लाने का है, एक परियोजना रिपोटर् तैयार कीजिए। 2.आप शायद किसी ग्रामीण वुफटीर उद्योग में कायर्रत हों, जो ध्ूप, अगरबत्ती, मोमबत्ती तथा जूट उत्पाद बनाने वाला हो सकता है। अब आप अपना स्वयं का काम शुरू करना चाहते हैं। बैंक द्वारा )ण पाने के लिए एक परियोजना प्रस्ताव तैयार करें। 3.मान लीजिए आप एक कंपनी में बाजार - अथर्शास्त्रा में सांख्ियकी प्रबंध्क हैं और हाल ही में आपने अपनी कंपनी के एक उपभोक्ता उत्पाद का विज्ञापन दिया है। अपने उत्पाद की बिक्री पर विज्ञापन के प्रभाव के विषय में परियोजना रिपोटर् तैयार करें। 4.आप एक जिला श्िाक्षा अध्िकारी हैं, जो अपने जिले में साक्षरता स्तर का मूल्यांकन तथा बच्चों के विद्यालय से पढ़ाइर् छोड़ने का कारण जानना चाहता है। एक रिपोटर् तैयार कीजिए। 5.मान लीजिए, आप एक क्षेत्रा विशेष में सतवर्फता - अध्िकारी के रूप में नियुक्त हैं और आपको विव्रेफताओं द्वारा सामानों की अध्िक कीमत लेने की श्िाकायत मिलती है, अथार्त् अध्िकतम खुदरा कीमत से अध्िक कीमत वसूलने की श्िाकायत। आप वुफछ दुकानों का दौरा करें और श्िाकायत के संबंध् में एक रिपोटर् तैयार करें। 6.मान लें कि आप किसी ग्राम के मुख्िाया ;ग्राम - पंचायत के प्रधनद्ध हैं, जो मूलभूत संसाध्न, जैसे लोगों के लिए सुरक्ष्िात पेयजल, उपलब्ध् कराना चाहते हैं। आप संब( मुद्दों को एक रिपोटर् के रूप में प्रस्तुत करें। 7.स्थानीय सरकार के प्रतिनिध्ि के रूप में, आप अपने क्षेत्रा की विभ्िान्न रोजगार - योजनाओं में महिलाओं की भागीदारी का मूल्यांकन करना चाहते हैं। एक परियोजना - रिपोटर् तैयार करें। 8.आप एक ग्राम - विकास खंड के मुख्य चिकित्सा - अध्िकारी हैें। परियोजना के माध्यम से संब( मुद्दों की पहचान करें। इसमें उस क्षेत्रा की स्वास्थ्य एवं स्वच्छता संबंध्ी समस्याएँ शामिल की जा सकती हैं। 9.खाद्य एवं नागरिक - पूतिर् विभाग के मुख्य निरीक्षक होने के नाते, आपको अपने कायर् क्षेत्रा में खाद्य मिलावट के बारे में श्िाकायत मिली है। समस्या की गंभीरता जानने के लिए एक सवर्ेक्षण कीजिए। 10.किसी क्षेत्रा विशेष में पोलियो प्रतिरक्षा कायर्क्रम पर एक रिपोटर् तैयार कीजिए। 11.आप एक बैंक अध्िकारी हैं। आप लोगों की आय एवं व्यय को ध्यान में रखते हुए उनकी बचत संबंध्ी आदतों के बारे में एक सवर्ेक्षण करना चाहते हैं। एक रिपोटर् तैयार कीजिए। 12.मान लीजिए आप किसी छात्रा समूह का एक अंग हैं, जो किसी गाँव में किसानों कीकृष्िा - गतिविध्ियों एवं कठिनाइयों का अध्ययन करना चाहता है। एक परियोजना रिपोटर् बनाएँ। 3.प्रतिदशर् परियोजना आपके मागर्दशर्न के लिए एक प्रतिदशर् परियोजना दी आपके संदभर् के लिए काल्पनिक आँकड़े दिए गएजा रही है। अध्ययन के विषय के अनुसार प्रश्नों में हैं, जहाँ आप सांख्ियकीय विध्ियों जैसे दंड - आरेख,भ्िान्नता हो सकती है। वृत्त - आरेख, माध्य तथा मानक विचलन आदि काआप एक युवा उद्यमी हैं, जो एक खुदरा दुकान उपयोग करेंगे।स्थापित करना चाहते हैं तथा बिक्री के लिए विभ्िान्नब्रांडों के टूथपेस्ट चुनना चाहते हैं। प्राथमिक ड्डोत द्वारा 1.क्षेत्रा वितरण आँकड़ों का संग्रह कर टूथपेस्ट के लिए एक प्रतिदशर् शहरी प्रयोक्ता 67» परियोजना तैयार की जा सकती है। ग्रामीण प्रयोक्ता 33» आप संबंध्ित व्यक्ित या पाटीर् को आश्वस्त करते प्रेक्षणः अध्िकांश प्रयोक्ता शहरी क्षेत्रा से थे।हुए शुरुआत कर सकते हैं कि अपेक्ष्िात सूचनाएँ सवर्ेक्षण के उद्देश्य के लिए हैं, न कि किसी अन्य 2.आयु वितरणउद्देश्य के लिए। यह कायर् एक आवरण - पत्रा के द्वारा आयु ;वषार्ें मेंद्ध व्यक्ितयों की संख्या किया जाता है। सभी सूचनाओं को गोपनीय रखा 10 वषर् से कम 74 जाएगा। 10μ20 56 20μ30 91 आँकड़ों का विश्लेषण एवं निवर्चन 30μ40 146 संपूणर् सूचनाएँ संगृहीत करने के पश्चात्, अब आपको 40μ50 93 50 से अध्िक 40 ;बिक्री हेतुद्ध टूथपेस्ट के ब्रांडों को चुनने के लिएयोग 500 आँकड़ों को संगठित एवं वगीर्कृत करना होगा। नीचे अथर्शास्त्रा में सांख्ियकी अभ्यास1.नाम 2.आयु ;वषार्ें मेंद्ध व्यक्ितयों की संख्या ;कद्ध 10 सेमी से कम ;खद्ध 10μ20 ;गद्ध 20μ30 ;घद्ध 30μ40;घद्ध 40μ50 ;चद्ध 50 से अध्िक3.लिंगः पुरुष/ड्डी 4.परिवार में व्यक्ितयों की संख्या ;कद्ध 1μ2 ;खद्ध 3μ4 ;गद्ध 5μ6 ;घद्ध 6 से अध्िक 5.परिवार में कमाने वाले सदस्यों की संख्या कितनी है?6.मासिक पारिवारिक आय ;कद्ध 10,000 से कम ;खद्ध 10,000μ20,000 ;गद्ध 20,000μ30,000 ;घद्ध 30,000 से अध्िक 7.निवासीः शहरी/ग्रामीण क्षेत्रा8.प्रमुख अजर्क ;रोटी कमाऊद्ध सदस्य का मुख्य व्यवसायः ;कद्ध सेवा ;नौकरी - पेशाद्ध ;खद्ध व्यावसायिक ;गद्ध विनिमार्ता ;घद्ध व्यापारी ;ड़द्ध अन्य ;कृपया बताएँद्ध 9.अपने दाँतों की सपफाइर् के लिए क्या इस्तेमाल करते हैं? ;कद्ध टूथपेस्ट ;खद्ध टूथ पाउडर ;गद्ध अन्य 10.आप किस ब्रांड के टूथपेस्ट का प्रयोग करते है? ;कद्ध एक्वाप्रेफश ;खद्ध एंकर ;गद्ध सिबाका ;घद्ध बबलू;घद्ध क्लोशअप ;छद्ध काॅटलगे;झद्ध मेसवाक ;टद्ध पेप्सोडेंट ;डद्ध पलर् 32 ;×ाद्ध होम्योडेंट ;थद्ध कोइर् अन्य ;चद्ध प्राॅमिस ;जद्ध पफोरहेंस ;णद्ध टी ट्री आॅयल एवं नीम ;ठद्ध ओरल बी ;ढद्ध ट्रू डेंट ;तद्ध संेसोडाइन 11.प्रत्येक 100 ग्राम टूथपेस्ट के पैक के लिए चुकाइर् गइर् कीमतः 12.क्या आपको उत्पाद ;टूथपेस्टद्ध महँगा लगता है? हा/नहीँं 13.क्या आप टूथपेस्ट की विनिमार्ण एवं समाप्ित की तारीखें देखते हैं? हा/नहीँं 14.क्या आप मानक चिÉ ;जैसे, आइर्.एस.आइर्.द्ध देखते हैं? हा/नहीँं 15.क्या आप उसमें प्रयुक्त संघटकों ;सामगि्रयोंद्ध की जाँच करते हंै? हा/नहीँं 16.क्या आप उत्पाद की गुणवत्ता से संतुष्ट हैं? हा/नहीँं 17.यदि संतुष्ट नहीं हैं, तो क्या आप दुकानदार से श्िाकायत करते हैं? हा/नहीँं 18.क्या आपकी श्िाकायत समय पर सुनी गइर्? हा/नहीँं 19.उत्पाद से असंतुष्ट होने पर, क्या आप कभी उपभोक्ता अदालत में गए हैं? हा/नहीँं 20.क्या आपकी श्िाकायत संतोषजनक रूप से पूरी की गइर्? हा/नहीँं 21.आपको उत्पाद के बारे में जानकारी कहाँ से प्राप्त हुइर्ः विज्ञापन प्रभावित परिवार टेलीविजन समाचार - पत्रा पत्रिाका सिनेमा बिक्री प्रतिनिध्ि प्रदशर्नी - स्टाॅल रेडियो 22.क्या आपको उत्पाद का विज्ञापन आकषर्क लगा? हा/नहीँं 23.क्या आप विक्रय - प्रोत्साहक प्रस्तावों से आकष्िार्त हुए जैसे,छूट, मुफ्रत टूथब्रश, एक के साथ एक मुफ्रत, आदि? हा/नहीँं 24.क्या किसी विशेष टूथपेस्ट को खरीदने के लिए बच्चे दबाव डालते हैं? हा/नहीँं 25.यदि बाशार में कोइर् नया टूथपेस्ट आता है तो क्या आप उसे खरीदेंगे?यदि हाँ, तब किन बातों पर ध्यान देते हुए, कृपया बताएँ। हा/नहीँं चित्रा 9.1 दंड - आरेख प्रेक्षणः सवर्ेक्षण किए गए बहुसंख्यक लोग 20 - 50 आयु - वगर् से थे। 3.परिवार का आकार परिवार के आकार परिवारों की संख्या 1μ2 20 3μ4 40 5μ6 30 6 से अध्िक 10 योग 100 चित्रा 9.2 दंड - आरेख प्रेक्षणः सवर्ेक्षण किए गए अध्िकांश परिवारों में 3 - 6 सदस्य थे। 4.परिवार की मासिक आय प्रस्िथति आय परिवारों की संख्या 10,000 से कम 20 10,000μ20,000 40 20,000μ30,000 30 30,000 से अध्िक 10 अथर्शास्त्रा में सांख्ियकी दंड - आरेख तथा आयत चित्रा क्रमशः परिवारों की आय का स्तर दिखा रहे हैं। 45 40 35 30 25 20 15 10 5 0 40 30 20 10 आय चित्रा 9.4 आयत - चित्रा प्रेक्षणः सवर्ेक्षण किए गए अध्िकतर परिवारों की मासिक आय 10,000 से 30,000 के बीच थी। 5.प्रसाध्न संबंध्ी मासिक पारिवारिक बजट मदें व्यय ;रुपये मेंद्ध टूथपेस्ट 60 साबुन 45 शैंपू 140 शेविंग क्रीम 25 चित्रा 9.5 वृत्त - चित्रा प्रेक्षणः टूथपेस्ट परिवार के प्रसाध्न सामग्री बजट का एक महत्वपूणर् हिस्सा है। 6.प्रमुख व्यावसायिक प्रस्िथति परिवार का व्यवसाय परिवारों की संख्या सेवा ;नौकरी - पेशाद्ध 30 व्यावसायिक 5 विनिमार्ता 10 व्यापारी 40 अन्य ;कृपया बताएँद्ध 15 7.प्रयोग किए जाने वाले टूथपेस्ट ;प्राथमिकता के क्रम सेद्ध ब्रांड इकाइर् ब्रांड इकाइर् एक्वाÚेश 5 ं5एकर सिबाका 10 बबलू2 क्लोशअप 15 प्रोमिस 10 कोलगेट 20 पफोरहेंस 0 मेसवाक 5 टी ट्री आयॅल 8 व नीम पेप्सोडेंट 25 ओरल बी 11 पलर् 32 4 ट्रडेंटू10 होम्योडेंट 6 संसोडाइन 8 अन्य 0 प्रेक्षणः पेप्सोडेंट, कोलगेट, क्लोशअप अध्िक पसंद किए जाने वाले टूथपेस्ट थे। 8.टूथपेस्ट की कीमत 100 ग्राम पैक के परिवारों की संख्या टूथपेस्ट की कीमत ;रुपये मेंद्ध 20μ25 20 25μ30 40 30μ35 30 35μ40 10 योग 100 उपयुर्क्त सूचना के आधर पर माध्य एवं परिक्षेपण का परिकलन कीजिए। माध्य का परिकलन 100 ग्राम पैक के परिवारों की मध्य टूथपेस्ट का मूल्य संख्या बिंदु ;रुपये मेंद्ध िउ उि 20μ25 20 22.5 450 25μ30 40 27.5 1100 30μ35 30 32.5 975 35μ40 10 37.5 375 यागे100 2900 अथर्शास्त्रा में सांख्ियकी प्रेक्षणः अध्िकांश लोगों ने मानक चिÉ, गुणवत्ता,उि 2900 त्रत्र Σ त्र 29 कीमत तथा कंपनी के ब्रांड के आधर पर टूथपेस्टΣि100 प्रेक्षणः सभी ब्रांडों के टूथपेस्ट का औसत मूल्य 29 रुपये है। अन्य सांख्ियकीय विध्ियों का प्रयोग 100 ग्राú पैक के टूथपेस्ट का मूल्य ;रु मेंद्ध परिवारों की संख्या ि मध्य कश्त्र किश् बिंदु ;उ.1द्ध उ ध्5 किश्2 20μ25 20 22.5 μ1 μ20 20 25μ30 40 27.5 0 0 0 30μ35 30 32.5 1 30 30 35μ40 10 37.5 2 20 40 योग 100 30 90 मानक - विचलन के सूत्रा का प्रयोग करने पर, का चयन किया। 10.स्वाद एवं प्राथमिकता ब्रांड संतुष्ट असंतुष्ट एक्वाÚेश 5 15 सिबाका 10 5 क्लोशअप 15 10 कोलगेट 20 10 मेसवाक 5 15 पेप्सोडेंट 25 5 एंकर 5 10 बबूल 20 प्रोमिस 10 14 पफोरहंस 0 0 टी ट्री आॅयल व नीम 8 10 Σ⏐⎯⎯⎯ ⎞2ष् 2ष्⎯कि ओरल बी 11 15ब् ट्रू डेंट 10 5 सेंसोडाइन 8 3 पलर् 32 4 5 होम्योडेंट 6 2 − ⎠⎟ ×े त्र छ छ ⏐⎯⎯® 90−5⎠⎟ × 100 प्रेक्षणः सवार्ध्िक प्रयोग किए जाने वाले टूथपेस्टों मेंअसंतुष्िट का प्रतिशत अपेक्षाकृत कम था। 009ण्5 ण् ×5 त्र45×त्र 081 ण्−प्रेक्षणः अध्िकतर टूथपेस्टों की कीमत 25 - 35 रु के बीच थी। 9.चयन का आधर विशेषताएँ परिवार के सदस्य विज्ञापन पसंद 15 दाँतों के डाॅक्टर से प्रेरित 5 कीमत 35 गुणवत्ता 45 स्वाद 20 सामग्री/संघटक 10 मानकता चिÉ 50 नए उत्पाद को आजमाना 10 कंपनी ब्रांड 35 11.संघटकों ;सामगि्रयोंद्ध की प्राथमिकता सादा टूथपेस्ट 15 जेल टूथपेस्ट 5 एंटीसेप्िटक टूथपेस्ट 35 सुगंध्ित टूथपेस्ट 25 अस्िथक्षय ;बंतपमेद्धसंरक्षक टूथपेस्ट 40 गम टूथपेस्ट 10 प्रेक्षणः अध्िकांश लोगों ने अस्िथक्षय संरक्षक तथा एंटीसेप्िटक टूथपेस्ट को अन्य टूथपेस्टों की अपेक्षा अध्िक पसंद किया। 12.संचार साध्नों का प्रभाव प्रेक्षणः अध्िसंख्य लोगों को उत्पाद के बारे में टेलीविजन या समाचार - पत्रों के माध्यम से जानकारी मिली। सांख्ियकीय विध्ियों के उपयोग 129प्रभावित परिवारविज्ञापन प्रभावित परिवार टेलीविजन 47 4. सारांश/परियोजना रिपोटर्समाचार - पत्रा 30 पत्रिाकाएँ 20 बहुसंख्य लोग शहरी क्षेत्रों से थे। सवर्ेक्षण किए गए सिनेमा 25 अध्िकतर लोग 25 वषर् से 50 वषर् की आयु - वगर् सेविक्रय प्रतिनिध्ि 15 थे तथा उनके परिवार में औसतन 3 - 6 सदस्य थे। इनप्रदशर्नी स्टाल 10 रेडियो 18 परिवारों की मासिक आय 10,000 रु से 30,000 रु के बीच थी और वे मुख्यतः सेवा - वगर् ;नौकरी - पेशाद्ध एवं संचार साध्नों की भूमिका व्यापारी वगर् के थे। टूथपेस्ट पर व्यय परिवार के4750 प्रसाधन बजट का प्रमुख अंग था। पारिवारिक सवर्ेक्षण 40 30 में पेप्सोडेंट, कोलगेट तथा क्लोजअप अध्िक पसंद किए जाने वाले ब्रांड थे। माध्य के परिकलन द्वारा यह पाया गया कि लगभग 100 ग्राम टूथपेस्ट के पैक की औसत कीमत 29 रु थी। लोगों ने उस ब्रांड के टूथपेस्ट को प्राथमिकता दी, जो अस्िथक्षय संरक्षक या एंटीसेप्िटकटी.वी.समाचारपत्रिाकाएँ सिनेमा विक्रयप्रदशर्नी रेडियोपत्रा प्रतिनिध्ि स्टाल संचार साध्नों की भूमिका थे। अध्िकांश लोग विज्ञापनों से प्रभावित हुए थे तथा लोगों के बीच सवार्ध्िक लोकपि्रय संचार माध्यमचित्रा 9.7 दंड - आरेख टेलीविजन था। परिश्िाष्ट - अ सांख्ियकीय पदों का पारिभाष्िाक शब्द - संग्रह अथर्शास्त्राः व्यक्ित और समाज अपनी आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए तथा समाज के विभ्िान्न व्यक्ितयों एवं समूहों में उपभोग हेतु वितरित करने के लिए इसका चुनाव वैफसे करे कि वैकल्िपक प्रयोग वाले अल्प संसाध्नों का नियोजन विभ्िान्न वस्तुओं के उत्पादन में वैफसे हो, अथर्शास्त्रा इसका अध्ययन है। अपवजीर् विध्िः प्रेक्षणों के वगीर्करण की ऐसी विध्ि, जिसमें किसी वगर् की ऊपरी वगर् सीमा के बराबर प्रेक्षण को उस वगर् में न रखकर अगले वगर् में रखा जाता है। अप्रतिचयन त्राुटिः यह आँकड़ों के संग्रह में इन कारणों से उत्पन्न होती हैः ;पद्ध माप में त्राुटियाँ ;पपद्ध अभ्िालेखन की अशुियाँ ;पपपद्ध अनुत्तर। आँकड़ेः किसी विषय पर बेहतर समझ अथवा निणर्य लेने के लिए विशेष सूचना प्राप्त करने के लिए व्यवस्िथत क्रमब( संख्याओं का समुच्चय ;प्रायः बड़ी संख्या मेंद्ध। उत्पादकः वह जो बाशार के लिए वस्तुओं का विनिमार्ण करता है। उत्पादनः वस्तुओं के विनिमार्ण की िया। उपभोक्ताः जो अपनी स्वयं की आवश्यकताओं के लिए या अपने परिवार की आवश्यकताओं के लिए या किसी को उपहार देने के लिए वस्तुएँ खरीदता है। एक विचर वितरणः एक चर का बारंबारता वितरण। कल्िपत माध्यः परिकलन को सरल बनाने के लिए कोइर् सन्िनकट मान। कालानुक्रमिक वगीर्करणः समय पर आधरित वगीर्करण। काल श्रेणीः कालानुक्रमित रूप से व्यवस्िथत आँकड़े अथवा दो - चर आँकड़े जिनमें समय एक चर है। गुणः कोइर् लक्षण जिसकी प्रवृिा गुणात्मक है। इसे मापा नहीं जा सकता। गणनाकारः ऐसा व्यक्ित जो आँकड़ों का संग्रह करता है। गुणात्मक तथ्यः गुणों के संबंध् में व्यक्त आथ्िार्क सूचना अथवा आँकड़े। गुणात्मक वगीर्करणः गुण पर आधरित वगीर्करण। उदाहरण के लिए लिंग, वैवाहिक स्िथति आदि के अनुसार लोगों का वगीर्करण। चरः चर एक ऐसी मात्रा है जिसका प्रयोग किसी वस्तु अथवा व्यक्ितयों के किसी गुण ;जैसे ऊँचाइर्, भार, संख्या आदिद्ध को मापने के लिए किया जाता है, जिसका मान भ्िान्न - भ्िान्न परिस्िथतियों में भ्िान्न हो सकता है। चक्रीयताः एक से अध्िक वषर् के समय अंतराल के लिए आँकड़ों के विचरण में आवतिर्ता। जनगणना विध्िः आँकड़ा संग्रह की ऐसी विध्ि, जिसमें समष्िट के सभी व्यक्ितयों से प्रेक्षण लिए जाते हैं। दुलर्भताः इसका अभ्िाप्राय उपलब्ध्ता में कमी से है। दशमकः ऐसा विभागकारी मान जो आँकड़ों को दस समान भागों में बाँटता है। द्विबहुलकी वितरणः ऐसा वितरण जिसमें दो बहुलक मान हों। द्विचर वितरणः दो चरों का बारंबारता वितरण। देश्िाक वगीर्करणः भौगोलिक स्िथति के आधर पर वगीर्करण। परासः किसी चर के अध्िकतम तथा न्यूनतम मानों में अंतर। प्रेक्षणः अपरिष्कृत आँकड़ों की कोइर् इकाइर्। नीतिः किसी आथ्िार्क समस्या को हल करने का उपाय। प्रतिचयन त्राुटिः यह प्राचल के आकलन तथा यथाथर् मान के बीच संख्यात्मक अंतर है। प्रतिदशर् ;सवर्ेक्षण विध्िद्धः ऐसी विध्ि जिसमें समष्िट से चुने हुए प्रेक्षणों को व्यष्िटयों के प्रतिनिध्ि समुच्चय ;प्रतिदशर्द्ध के आधर पर प्राप्त करने की आवश्यकता होती है। प्रश्नावलीः अन्वेषण के विषय पर अन्वेषण द्वारा तैयार किए गए प्रश्नों की सूची। उत्तरदाता को प्रश्नों के उत्तर देने की आवश्यकता होती है। बारंबारताः अपरिष्कृत आँकड़ों में किसी प्रेक्षण का बार - बार आना। किसी बारंबारता वितरण में इसका अभ्िाप्राय है एक वगर् में प्रेक्षणों की संख्या। बारंबारता सरणीः किसी विविक्त चर का ऐसा वगीर्करण, जो उनकी संगत बारंबारताओं सहित चर के विभ्िान्न मानों को दशार्ता है। बारंबारता वक्रः बारंबारता वितरण का एक ऐसा आरेख जिसमें वगर् चिÉों के मान ग् - अक्ष पर तथा वगर् की बारंबारताओं को ल् - अक्ष पर आलेख्िात किया जाता है। बारंबारता वितरणः मात्रात्मक चर का ऐसा वगीर्करण, जो यह दशार्ता है कि चर के विभ्िान्न मान संगत वगर् की बारंबारताओं सहित विभ्िान्न वगार्ें में वैफसे वितरित किए जाते हैं। बहुबहुलकी वितरणः ऐसा वितरण जिसमें दो से अध्िक बहुलक होते हैं। भारित औसतः यहाँ आँकड़ों के भ्िान्न - भ्िान्न बिंदुओं को भ्िान्न - भ्िान्न भार देकर औसत का परिकलन किया जाता है। मात्रात्मक तथ्यः संख्याओं में व्यक्त आथ्िार्क सूचना अथवा आँकड़े। मिलान चिÉ अंकनः मिलान चिÉों ;/द्ध का प्रयोग करके एक वगर् में प्रेक्षणों की गिनती करना। मिलान चिÉोंको पाँच - पाँच में समूहीकृत किया जाता है। मौसमीपनः एक वषर् से कम समयावध्ि में आकड़ों के विचरण में आवतिर्ता। यादृच्िछक प्रतिचयनः यह प्रतिचयन की ऐसी विध्ि है जिसमें सूचकों के प्रतिनिध्ि समुच्चय का चयन इस प्रकार किया जाता है कि प्रत्येक व्यष्िट को सूचक के रूप में चुने जाने का समान अवसर दिया जाए। राष्ट्रीय आयः देश में जितना उत्पादन हुआ है, उससे उत्पन्न वुफल आय। इसे सकल राष्ट्रीय उत्पाद भी कहते हैं। अथर्शास्त्रा में सांख्ियकी वगर् बारंबारताः किसी वगर् में प्रेक्षणों की संख्या। वगर् - अंतरालः ऊपरी और निम्न वगर् सीमाओं के बीच का अंतर। वगर् चिÉः वगर् का मध्य - बिंदु। वगर् का मध्य बिंदुः किसी वगर् का मध्य मान उस वगर् के विभ्िान्न प्रेक्षणों का प्रतिनिध्ि मान है। यह वगर् की ;ऊपरी सीमा $ वगर् की निम्न सीमाद्ध/2 के बराबर होता है। वगीर्करणः समान वस्तुओं को समूहों अथवा वगार्ें में व्यवस्िथत करना। विविक्त चरः ऐसा मात्रात्मक चर जिसमें वुफछ निश्िचत मान होते हैं। परिमित ‘उछालों’ द्वारा यह एक मान से दूसरे मान में परिवतिर्त हो जाता है। चर में दो आसन्न मानों के बीच मध्यवतीर् मान सम्िमलित नहीं होते। वितरण/बंटनः राष्ट्रीय आय का मजदूरी, लगान, लाभ तथा ब्याज में विभाजन। विश्लेषणः किसी आथ्िार्क समस्या को समझना एवं विभ्िान्न कारणों के संदभर् में उसकी व्याख्या करना। विक्रेताः वह जो लाभ के लिए वस्तुओं का विक्रय करता है। संरचित प्रश्नावलीः संरचित प्रश्नावली में परिमितोत्तर प्रश्न होते हैं, जिनके लिए चुनने के लिए वैकल्िपक संभवउत्तर दिए होते हैं। स्िथरांकः स्िथरांक एक मात्रा है जिसका उपयोग किसी गुण के वणर्न करने के लिए किया जाता है। परंतु परिकलन के दौरान यह परिवतिर्त नहीं होता। समावेशी विध्िः प्रेक्षणों के वगीर्करण की ऐसी विध्ि जिसमें वगर् की ऊपरी वगर् सीमा के बराबर प्रेक्षणों को उसी वगर् में रखते हैं। समष्िटः समष्िट का अथर् है वे सभी व्यष्िट/इकाइयाँ जिनके बारे में सूचना प्राप्त करनी है। सूचकः व्यष्िट/इकाइर् जिससे इष्ट सूचना प्राप्त की जाती है। सेवाधरीः वह जो किसी कायर् के लिए अथवा किसी अन्य व्यक्ित के लिए कायर् करने के लिए भुगतान प्राप्त करता है। सेवा प्रदाताः वह जो भुगतान लेकर दूसरों को सेवा प्रदान करता है। सांख्ियकीः अथर्पूणर् निष्कषर् निकालने के लिए आँकड़ों के संग्रह, संगठन, प्रस्तुतीकरण तथा विश्लेषण करने की विध्ि। इसका अभ्िाप्राय आँकड़ों से भी है। सापेक्ष बारंबारताः वुफल बारंबारता के अनुपात अथवा प्रतिशत के रूप में किसी वगर् की बारंबारता। संतत चरः ऐसा मात्रात्मक चर जिसका कोइर् भी संख्यात्मक मान हो सकता है। शतमकः ऐसा मान जो आँकड़ों को सौ बराबर भागों में बाँट देता है, इसलिए आँकड़ों में 99 शतमक होते हैं। परिश्िाष्ट ब दो अंकों के बेतरतीब अंक 03 47 43 73 86 36 96 47 36 61 46 98 63 71 62 33 26 16 80 45 60 11 14 10 95 97 74 24 67 62 42 81 14 57 20 42 53 32 37 32 27 07 36 07 51 24 51 79 89 73 16 76 62 27 66 56 50 26 71 07 32 90 79 78 53 13 55 38 58 59 88 97 54 14 10 12 56 85 99 26 96 96 68 27 31 05 03 72 93 15 57 12 10 14 21 88 26 49 81 76 55 59 56 35 64 38 54 82 46 22 31 62 43 09 90 06 18 44 32 53 23 83 01 30 30 16 22 77 94 39 49 54 43 54 82 17 37 93 23 78 87 35 20 96 43 84 26 34 91 64 84 42 17 53 31 57 24 55 06 88 77 04 74 47 67 21 76 33 50 25 83 92 12 06 76 63 01 63 78 59 16 95 55 67 19 98 10 50 71 75 12 86 73 58 07 44 39 52 38 79 33 21 12 34 29 78 64 56 07 82 52 42 07 44 38 15 51 00 13 42 99 66 02 79 54 57 60 86 32 44 09 47 27 96 54 49 17 46 09 62 90 52 84 77 27 08 02 73 43 28 18 18 07 92 46 44 17 16 58 09 79 83 86 19 62 06 76 50 03 10 55 23 64 05 05 26 62 38 97 75 84 16 07 44 99 83 11 46 32 24 20 14 85 88 45 10 93 72 88 71 23 42 40 64 74 82 97 77 77 81 07 45 32 14 08 32 98 94 07 72 93 85 79 10 75 52 36 28 19 95 50 92 26 11 97 00 56 76 31 38 80 22 02 53 53 86 60 42 04 53 37 85 94 35 12 83 39 50 08 30 42 34 07 96 88 54 42 06 87 98 35 85 29 48 39 70 29 17 12 13 40 33 20 38 26 13 89 51 03 74 17 76 37 13 04 07 74 21 19 30 56 62 18 37 35 96 83 50 87 75 97 12 25 93 47 70 33 24 03 54 97 77 46 44 80 99 49 57 22 77 88 42 95 45 72 16 64 36 16 00 04 43 18 66 79 94 77 24 21 90 16 08 15 04 72 33 27 14 34 09 45 59 34 68 49 12 72 07 34 45 99 27 72 95 14 31 16 93 32 43 50 27 89 87 19 20 15 37 00 49 52 85 66 60 44 38 68 88 11 80 68 34 30 13 70 55 74 30 77 40 44 22 78 84 26 04 33 46 09 52 68 07 97 06 57 74 57 25 65 76 59 29 97 68 60 71 91 38 67 54 13 58 18 24 76 15 54 55 95 52 27 42 37 86 53 48 55 90 65 72 96 57 69 36 10 96 46 92 42 45 97 60 49 04 91 00 39 68 29 61 66 37 32 20 30 77 84 57 03 29 10 45 65 04 26 11 04 96 67 24 29 94 98 94 24 68 49 69 10 82 53 75 91 93 30 34 25 20 57 27 40 48 73 51 92 16 90 82 66 59 83 62 64 11 12 67 19 00 71 74 60 47 21 29 68 02 02 37 03 31 11 27 94 75 06 06 09 19 74 66 02 94 37 34 02 76 70 90 30 86 38 45 94 30 38 35 24 10 16 20 33 32 51 26 38 79 78 45 04 91 16 92 53 56 16 02 75 50 95 98 38 23 16 86 38 42 38 97 01 50 87 75 66 81 41 40 01 74 91 62 48 51 84 08 32 31 96 25 91 47 96 44 33 49 13 34 86 82 53 91 00 52 43 48 85 27 55 26 89 62 66 67 40 67 14 64 05 71 95 86 11 05 65 09 68 76 83 20 37 90 57 16 00 11 66 14 90 84 45 11 75 73 88 05 90 52 27 41 14 86 22 98 12 22 08 07 52 74 95 80 68 05 51 18 00 33 96 02 75 19 07 60 62 93 55 59 33 82 43 90 49 37 38 44 59 20 46 78 73 90 97 51 40 14 02 04 02 33 31 08 39 54 16 49 36 47 95 93 13 30 64 19 58 97 79 15 06 15 93 20 01 90 10 75 06 40 78 78 89 62 02 67 74 17 33 05 26 93 70 60 22 35 85 15 13 92 03 51 59 77 59 56 78 06 83 52 91 05 70 74 07 97 10 88 23 09 98 42 99 64 61 71 62 99 15 06 51 29 16 93 58 05 77 09 51 68 71 86 85 85 54 87 66 47 54 73 32 08 11 12 44 95 92 63 16 29 56 24 29 48 26 99 61 65 53 58 37 78 80 70 42 10 50 67 42 32 17 55 85 74 94 44 67 16 94 14 65 52 68 75 87 59 36 22 41 26 78 63 06 55 13 08 27 01 50 15 29 39 39 43 17 53 77 58 71 71 41 61 50 72 90 26 59 21 19 23 52 23 33 12 41 23 52 55 99 31 04 49 69 96 60 20 50 81 69 31 99 73 68 68 91 25 38 05 90 94 58 28 41 36 34 50 57 74 37 98 80 33 00 91 85 22 04 39 43 73 81 53 94 79 09 79 13 77 48 73 82 97 22 21 88 75 80 18 14 22 95 75 42 49 90 96 23 70 00 39 00 03 06 90 53 74 23 99 67 61 32 28 69 84 63 38 06 86 54 99 00 65 26 94 35 30 58 21 46 06 72 17 10 94 63 43 36 82 69 65 51 18 37 88 98 25 37 55 26 01 91 82 81 46 02 63 21 17 69 71 50 80 89 56 64 55 22 21 82 48 22 28 06 00 85 07 26 13 89 01 10 07 82 04 58 54 16 24 15 51 54 44 82 00 34 85 27 84 87 61 48 64 56 26 03 92 18 27 46 57 99 16 96 56 62 95 30 27 59 37 75 41 66 48 08 45 93 15 22 60 21 75 46 91 07 08 55 18 40 45 44 75 13 90 01 85 89 95 66 51 10 19 34 88 72 84 71 14 35 19 11 58 49 26 88 78 28 16 84 13 52 53 94 53 45 17 75 65 57 28 40 19 72 12 96 76 28 12 54 22 01 11 94 25 43 31 67 72 30 24 02 94 08 63 50 44 66 44 21 66 06 58 05 62 22 66 22 15 86 26 63 75 41 99 96 24 40 14 51 23 22 30 88 57 31 73 91 61 19 60 20 72 93 48 78 60 73 99 84 43 89 94 36 45 84 37 90 61 56 70 10 23 98 05 36 67 10 08 23 98 93 35 08 86 07 28 59 07 48 89 64 58 89 75 10 15 83 87 60 79 24 31 66 56 55 19 68 97 65 03 73 52 16 56 53 81 29 13 39 35 01 20 71 34 51 86 32 68 92 33 98 74 66 99 35 91 70 29 13 80 03 54 07 27 37 71 67 95 13 20 02 44 95 94 93 66 13 83 27 92 79 64 64 72 12 41 94 96 26 96 93 02 18 39 10 47 48 45 88 35 81 33 03 76 45 37 59 03 09 09 77 93 19 82 33 62 46 86 28 05 03 27 24 83 39 32 82 22 49 55 85 78 38 36 94 62 67 86 24 02 82 90 23 07 25 21 31 75 96 61 38 44 12 45 74 71 12 94 97 38 15 70 11 48 61 54 13 43 91 59 63 69 36 03 62 61 65 04 69 90 18 48 13 26 30 33 72 85 22 86 97 80 61 45 98 77 27 85 42 24 94 96 61 02 15 84 97 19 75 50 11 17 17 76 75 45 69 30 96 25 12 74 75 67 71 96 16 16 88 38 32 36 66 02 68 15 54 35 02 58 42 36 72 24 95 67 47 29 83 98 57 07 23 69 56 69 47 07 41 85 11 34 76 60 99 29 76 29 81 83 85 62 27 89 21 48 24 06 93 00 53 55 90 27 62 33 74 82 14 40 14 71 94 58 96 94 78 32 66 64 85 04 05 72 28 54 96 53 84 अथर्शास्त्रा में सांख्ियकी परिश्िाष्ट ब ;क्रमशःद्ध 44 95 27 36 99 02 96 74 30 83 07 02 18 36 07 25 99 32 70 23 13 41 43 89 20 97 17 14 49 17 24 30 12 48 60 18 99 10 72 34 90 35 57 29 12 82 62 54 65 60 74 94 80 04 04 45 07 31 66 49 08 31 54 46 31 53 94 13 38 47 72 89 44 05 60 35 80 39 94 88 02 48 07 70 37 16 04 61 67 87 94 37 30 69 32 90 89 00 76 33 98 33 41 19 95 47 53 53 38 09 79 62 67 80 60 75 91 12 81 19 49 28 24 00 49 55 65 79 78 07 32 92 85 88 65 54 34 81 85 35 24 02 71 37 07 03 92 18 66 75 43 40 45 86 98 00 83 26 91 03 82 78 12 23 29 06 66 24 12 27 69 11 15 83 80 13 29 54 19 28 38 18 65 18 97 85 72 13 49 21 37 70 15 42 57 65 65 80 39 07 84 64 38 56 98 99 01 30 98 64 23 53 04 01 63 45 76 08 64 27 28 88 61 08 84 69 62 03 42 73 57 55 66 83 15 73 42 37 11 61 12 76 39 43 78 64 63 91 08 25 86 31 57 20 18 95 60 78 46 75 73 89 65 70 31 99 17 43 48 76 60 40 60 81 19 24 62 01 61 16 68 64 36 74 45 19 59 50 88 92 69 36 38 25 39 48 03 45 15 22 42 35 48 96 32 14 52 41 52 48 58 37 52 18 51 03 37 18 39 11 94 69 40 06 07 18 16 36 78 86 65 95 39 69 58 56 80 30 19 44 90 22 91 07 12 78 35 34 08 72 76 48 45 34 60 01 64 18 39 96 33 34 91 58 93 63 14 52 32 52 30 14 78 56 27 86 63 59 80 02 91 98 94 05 49 01 47 59 38 00 33 42 29 38 87 22 13 88 83 34 53 73 19 09 03 56 54 29 56 93 45 94 19 38 81 14 44 99 81 07 50 95 52 74 33 13 80 55 62 54 01 32 90 76 14 53 89 74 60 41 48 14 52 98 94 56 07 93 89 30 सांख्ियकीः इनके विचार से ऽ सांख्ियकी सामान्य बुि का स्थानापन्न नहीं हैं! हेनरी क्ले ऽ मुझे औसतों पर विश्वास नहीं, मैं व्यक्ितगत उदाहरणों को पसंद करता हूँ। किसी व्यक्ित को एक दिन में छः बार खाना मिले और दूसरे दिन एक बार भी नहीं। इस प्रकार उसे प्रतिदिन औसत रूप से तीन बार भोजन तो मिला, परन्तु जीने का आदशर् तरीका यह नहीं! लुइर् डी. ब्रांडीस ऽ मौसम विभाग कभी गलत नहीं होता। मान लें, वहाँ से सूचना मिलती है कि वषार् की 80 प्रतिशत संभावना है। यदि वषार् होती है तो 80 प्रतिशत भविष्यवाणी सच होती है, यदि नहीं तो 20 प्रतिशत भविष्यवाणी! सौल बैराॅन ऽ किसी व्यक्ित की मृत्यु एक दुःखद घटना है, जबकि एक लाख व्यक्ितयों की मृत्यु आँकड़े हंै! जोसेपफ स्टालिन ऽ किसी डाॅक्टर को सांख्ियकीविद् की तुलना में अध्िक सम्मान क्यों मिलता है? इसलिए कि डाॅक्टर किसी जटिल बीमारी का विश्लेषण करते हैं, जबकि सांख्ियकीविद् विश्लेषण को जटिल बना आपको बीमार कर दते हैं! गैरी सी. रामसेयर

RELOAD if chapter isn't visible.