5बैंक समाधन विवरण अध्याय 4 में आपने जाना कि व्यावसायिक संगठन रोकड़ बही में नकद व बैंक संबंध्ी लेन - देनों का अभ्िालेखन करती है। रोकड़ बही रोकड़ खाते व बैंक खाते दोनों के अंत में दोनों खातों का शेष प्रदश्िार्त करती है। एक बार जब रोकड़ बही को संतुलित कर लिया जाता है तो यह एक सामान्य अभ्यास है कि उसमें अभ्िालिख्िात लेन - देनों का मिलान बैंक पासबुक की प्रविष्िटयों से किया जाता है। इस प्रकार की जाँच के लिए आवश्यक है कि रोकडि़या इस बात से आश्वस्त हो कि रोकड़ बही में सभी लेन - देनों की प्रविष्िट हो चुकी है तथा बैंक से भी खाते का विवरण ;ठंदा ैजंजमउमदजद्ध अथवा पासबुक पूरी करवा कर मँगवा ली गइर् है। बैंक विवरण या पासबुक हमारे खाते में की गइर् विभ्िान्न प्रविष्िटयों की बैंक प्रलेखों से उतारी प्रतिलिपि होती है। इसकी सहायता से बैंक के ग्राहक नियमित रूप से अपनी रोकड़ बही में लिखे गए लेन - देनों का मिलान बैंक पुस्तकों में अपने खाते में किए गए लेन - देनों से कर अपने प्रलेखों को पूरा कर सकते हैं। चालू खाते की पासबुक का एक उदाहरण चित्रा 5ण्1 में दशार्या गया है। बैंक विवरण अथवा पासबुक में दशार्इर् गयी ध्न राश्िा के शेष का मिलान रोकड़ बही के बैंक स्तंभ में दशार्ये गए शेष से होना चाहिए। लेकिन व्यवहार में इन दोनों के शेष में अंतर पाया जाता है। पासबुक के प्रदशर् का अध्ययन करने पर आप पाएंगे कि सभी जमा किए गए चेक व रोकड़ संबंध्ी सौदे इसके जमा पक्ष में दशार्ये गए हैं तथा भुगतान व आहरण संबंध्ी सौदे इसके नाम पक्ष में दशार्ये गए हैं। इसलिए यदि जमा राश्िा आहरित राश्िा से अिाक अध्िगम उद्देश्य इस अध्याय के अध्ययन के उपरांत आपः ऽ बैंक समाधन विवरण का अथर् व इसे बनाने की आवश्यकता का उल्लेख कर सकेंगेऋ ऽ रोकड़ बही के बैंक शेष व बैंक पासबुक द्वारा प्रदश्िार्त शेष में अंतर के कारणों की पहचान कर पाएंगेऋ ऽ बैंक समाधन विवरण का निमार्ण कर पाएंगेऋ ऽ रोकड़ बही में सही बैंक शेष का निधर्रण कर पाएंगें। होगी तो यह जमा शेष का प्रदशर्न करेगा और यदि आहरण, जमा की गइर् राश्िा से अध्िक होगा तो यह नाम शेष अथार्त् अध्िविकषर् का प्रदशर्न करेगा। 5ण्1 बैंक समाधन विवरण की आवश्यकता सामान्यतः ऐसा अनुभव किया गया है कि जब रोकड़ बही द्वारा प्रदश्िार्त बैंक स्तंभ के योग की तुलना बैंक विवरण द्वारा प्रदश्िार्त शेष से की जाती है। तो यह समान नहीं होते, इन में अंतर होता है। इसलिए हमें सवर्प्रथम इस अंतर के कारणों का निधर्रण करना पड़ता है और उन्हें एक विवरण जिसे बैंक समाधन विवरण कहा जाता है, में प्रतिबिम्िबत किया जाता है। यह विवरण इन दोनों पुस्तकों के शेषों का मिलान कर देता है। बैंक समाधन विवरण बनाने के लिए हमारे पास रोकड़ बही के अनुसार बैंक स्तंभ में दिया गया शेष व उस तिथ्िा विशेष तक दोनों पुस्तकों में दशार्ये गए लेन - देनों का विवरण उपलब्ध् होना चाहिये। यदि दोनों पुस्तकों के शेषों में अंतर पाया जाता है तो उनमें दिखाइर् गइर् विभ्िान्न मदों की तुलना कर अंतर तथा उस ध्न राश्िा का निधर्रण किया जाता है जितने का अंतर होता है, ताकि बैंक समाधन विवरण का निमार्ण किया जा सके। विवरण राश्िा रु जोडि़ए घटाइए रोकड़ बही के अनुसार दिखाया गया शेष भुगतान के लिए निगर्मित चेक जो बैंक में प्रस्तुत नहीं हुए बैंक द्वारा दी गइर् ब्याज की राश्िा जमा किए गए चेक जिन्हें अभी संग्रहित नहीं किया गया है बैंक शुल्क जिसे रोकड़ बही में नही लिखा गया है। पासबुक के अनुसार शेष ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग चित्रा 5ण्2ः बैंक समाधन विवरण का प्रारूप इसे राश्िा के दो स्तंभों के साथ भी बनाया जा सकता है जिनमें एक जोड़ने ;़द्ध वाली मदों की राश्िा व दूसरा घटाने ;√द्ध वाली मदों की राश्िा का प्रदशर्न करता है। सुविध की दृष्िट से साधरणतः इसी प्रारूप को मान्यता प्राप्त है। ध्ीरेन्द्र नेशनल बैंक मल्टी माॅड्ल पैकेज तिथ्िा 01ध्09ध्2005 कनाॅट प्लेस खाता विवरण खाता सं.03355 01ध्09ध्2005 से 29ध्12ध्2005 पृ. सं. रू 1 नाम रू उत्तम वुफमारहाॅज खास, नइर् दिल्लीपिन कोड रू 110016 तिथ्िा विवरण चेक नाम जमा शेष ़ टिप्पणी नंरु. पैरु. पैरु. पैप्रारंभ्िाक शेष रू 50ए782ण्30 ़ 04ण्08ण्2005 दिल्ली प्लास्िटक 356376 35ए000ण्00 15ए782ण्30 ़ 07ण्08ण्2005 स्वयं 356377 10ए000ण्00 5ए782ण्30 ़ 13ण्08ण्2005 समाशोध्न 10ए673ए00 16ए455ए30 ़ 13ण्08ण्2005 समाशोध्न 9ए143ण्00 25ए598ण्30 ़ 17ण्08ण्2005 स्वयं 356378 20ए000ण्00 5ए598ण्30 ़ 21ण्08ण्2005 समाशोध्न 25ए808ण्00 31ए406ण्30 ़ 26ण्08ण्2005 समाशोध्न 32ए949ण्00 64ए355ए30 ़ 02ण्09ण्2005 स्वयं 356381 30ए000ण्00 34ए355ण्30 ़ 04ण्09ण्2005 दिल्ली प्लास्िटक 356382 10ए000ण्00 24ए355ण्30 ़ 08ण्09ण्2005 आइर्.सी.आइर्.सी.आइर्657755 6ए074ण्00 18ए281ण्30 ़ 09ण्09ण्2005 समाशोध्न 3ए146ण्00 21ए427ण्30 ़ 13ण्09ण्2005 स्वयं 356380 9ए500ए00 11ए927ण्30 ़ 15ण्09ण्2005 समाशोध्न 5ए320ण्00 17ए247ण्30 ़ 15ण्09ण्2005 समाशोध्न 18ए564ण्00 35ए811ण्30 ़ 16ण्09ण्2005 सेवा शुल्क 120ण्00 35ए691ण्30 ़ 21ण्09ण्2005 स्वयं 356383 20ए000ण्00 15ए691ण्30 ़ 25ण्09ण्2005 स्वयं 356385 10ए000ण्00 5ए691ण्30 ़ 27ण्09ण्2005 समाशोध्न 16ए198ण्00 21ए889ण्30 ़ कृते द्वारा ध्ीरेन्द्र नेशनल बैंक लेखाकार/प्रबंध्कचित्रा 5ण्1 रू बैंक विवरण का प्रारूप ;चालू खाताद्ध विवरण रोकड़ बही के अनुसार शेष जोडि़ए भुगतान के लिए निगर्मित चेक जो बैंक मंे प्रस्तुत नहीं हुए हैं बैंक द्वारा दी गइर् ब्याज की राश्िा घटाइए जमा किए गए चेक जिन्हें अभी संग्रहित नही किया गया है। बैंक शुल्क जिन्हें रोकड़ बही में नहीं लिखा गया है पासबुक के अनुसार शेष राश्िा रु;़द्ध ग ग ग ग ग ग ग ग ग राश्िा रु;√द्ध ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग ग चित्रा 5ण्3ः सारणी रूप में बैंक समाधन विवरण का प्रारूप रोकड़ बही व पासबुक के शेषों में समाधन का साधरण सा अथर् उन कारणों का विश्लेषण अथवा पहचान है जिनकी वजह से यह अंतर आया है, जो कि निम्न हो सकते हैंः ऽ लेन - देन के अभ्िालेखन के समय में अंतर। ऽ बैंक अथवा व्यवसाय द्वारा की गइर् त्राुटियां। 5ण्1ण्1 समय में अंतर जब व्यवसाय में रोकड़ बही द्वारा प्रदश्िार्त शेष व बैंक पासबुक द्वारा प्रदश्िार्त शेष की तुलना की जाती है तो बहुध उसमें अंतर पाया जाता है। यह अंतर विभ्िान्न प्राप्ितयों एवं भुगतानों के दोनों पुस्तकों में अभ्िालेखन के समय के अंतर के कारण उत्पन्न होता है। इस समय के अंतर को प्रभावित करने वाले विभ्िान्न कारक इस प्रकार हैंः 5ण्1ण्1 ;अद्ध निगर्मित किए गए चेक जो भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुए हैं पफमर् द्वारा अपने माल के पूतिर्कारों व लेनदारों को भुगतान हेतु चेक जारी किए जाते हैं। इन चेकों को तत्काल ही रोकड़ पुस्ितका के जमा पक्ष के बैंक स्तंभ में प्रविष्ट कर दिया जाता है। हालाँकि यह आवश्यक नहीं कि चेक प्राप्त करने वाला पक्ष उस चेक को तुरंत अपने बैंक में भुगतान प्राप्त करने हेतु जमा करवा दे। इस कारण रोकड़ बही में तो बैंक शेष कम हो जाता है जबकि बैंक तो खाते को तभी नाम करेगा जब वास्तविक रूप में उस चेक का भुगतान प्राप्त करने हेतु जमा करवा दे। इस कारण रोकड़ बही में तो बैंक शेष कम हो जाता है जबकि बैंक तो खाते को तभी नाम करेगा जब वास्तविक रूप में उस चेक का भुगतान हो जाएगा, और तभी बैंक शेष भी कम होगा। साधरणतः चेक जारी करने व बैंक में उसके भुगतान के लिए प्रस्तुत होने के बीच में समय अन्तराल होता है। और समय का यह अंतर दोनों शेषों में भी अंतर का कारण हो सकता है। 5ण्1ण्1 ;बद्ध संग्रह करने हेतु भेजे गए चेक जिनका संग्रहण नहीं हुआ जब पफमर् को अपने किसी देनदार से भुगतान चेक स्वरूप प्राप्त होता है तो उसे बैंक में जमा कराने के लिए भेजते ही रोकड़ बही के नाम पक्ष में बैंक स्तंभ में प्रविष्िट कर दी जाती है। इस कारण रोकड़ बही में प्रदश्िार्त बैंक शेष में वृि हो जाती है। जबकि बैंक हमारे खाते के जमा में तभी प्रविष्िट करता है जब वास्तविक रूप में वह ध्न राश्िा दूसरे बैंक से प्राप्त हो जाती है। क्योंकि चेकों के समाशोधन में साधरणतः कुछ दिन लग जाते हैं विशेष रूप से यदि उन चेकों का संबंध् किसी दूसरे शहर से हो या किसी अन्य शाखा में देय हों। इस प्रकार भुगतान के लिए जमा किए गए चेक जिनका संग्रहण नहीं हुआ है रोकड़ बही के बैंक स्तंभ बैंक पासबुक द्वारा प्रदश्िार्त शेष में अंतर का कारण बन जाता है। 5ण्1ण्1 ;सद्ध बैंक द्वारा ग्राहक के खाते से नाम किए गए शुल्क कइर् बार बैंक पफमर् को प्रदान की गइर् सेवाओं के लिए सीध ग्राहक के खाते में से कुछ शुल्क नाम कर देता है। पफमर् को इन शुल्कों की सूचना बैंक विवरण के माध्यम से ही मिलती है। इन शुल्कों के कुछ उदाहरण हैः चेकों के संकलन के लिए लिया गया शुल्क, आकस्िमक चेकों के लिए शुल्क ;रोके गए या खाते में शेष कम होने की स्िथति में असंकलित चेकद्ध परिणामस्वरूप पासबुक द्वारा प्रदश्िार्त शेष, रोकड़ बही के बैंक स्तंभ में प्रदश्िार्त शेष से कम हो जाएगा। 5ण्1ण्1 ;दद्ध बैंक खाते में सीध्ी जमा की गइर् राश्िायाँ कइर् बार देनदार ;ग्राहकद्ध पफमर् के बैंक खाते में सीध्े भी ध्नराश्िा जमा करवा देते हैं। लेकिन पफमर् के पास इस बारे में कोइर् भी जानकारी तब तक नहीं आती जब तक कि या तो बैंक विवरण मंगाया जाए या पासबुक में प्रविष्िटयां पूरी करवाइर् जाएँ। इस स्िथति में भुगतान प्राप्त होने पर बैंक प्रलेखों में तो पफमर् का शेष बढ़ गया लेकिन सूचना के अभाव में रोकड़ बही ने इस प्राप्त राश्िा का अभ्िालेखन नहीं किया। परिणामस्वरूप बैंक पासबुक द्वारा प्रदश्िार्त शेष रोकड़ बही द्वारा दशार्ए गए शेष से अिाक होगा। 5ण्1ण्1 ;मद्ध बैंक द्वारा संगृहित ब्याज व लाभांश जब बैंक अपने ग्राहक की ओर से ब्याज एवं लाभंाश का संकलन करता है तो तुरंत ही उस राश्िा को ग्राहक के खाते के जमा पक्ष में लिख दिया जाता है। लेकिन पफमर् अपनी इस प्राप्ित को तभी रोकड़ बही में अभ्िालिख्िात करेगी जब उसे इसकी सूचना बैंक विवरण के माध्यम से प्राप्त होगी इसलिए तब तक बैंक पासबुक व रोकड़ बही में प्रदश्िार्त शेषों में अंतर होगा। 5ण्1ण्1 ;पफद्ध ग्राहक की ओर से बैंक द्वारा प्रत्यक्ष भुगतान कभी - कभी ग्राहक बैंक को कुछ पूवर् निधर्रण तिथ्िायों पर तीसरे पक्ष को प्रत्यक्ष भुगतान करने के आदेश दे देता है। उदाहरणाथर्ः टेलिपफोन के बिल, बीमे की किस्त आदि का भुगातन बैंक द्वारा गा्रहक की ओर से सीध भी किया जा सकता है। इस स्िथति में भुगतान के साथ ही ग्राहक के बैंक खाते के नाम पक्ष में प्रविष्िट कर दी जाती है। परिणामस्वरूप बैंक पासबुक द्वारा दशार्या गया शेष कम हो जाता है तथा रोकड़ बही द्वारा प्रदश्िार्त शेष अध्िक होता है। 5ण्1ण्1 ;जद्ध जमा कराए गए चेकों/बट्टा कराए गए विपत्रों का अनादरित होना यदि पफमर् द्वारा जमा कराया गया चेक या विनिमय विपत्रा जो कि पफमर् द्वारा बनाया गया था तथा बैंक से बट्टा कराया गया था, अपनी परिपक्वता की तिथ्िा को अनादरित हो जाते हैं। तो उनकी राश्िा बैंक द्वारा गा्रहक के खाते के नाम पक्ष में लिख दी जाती है। क्योंकि तुरंत ही इसकी सूचना पफमर् की रोकड़ बही में इस संबंध् में कोइर् भी प्रविष्िट नहीं की जाती। परिणामस्वरूप बैंक पास बुक का शेष रोकड़ बही के शेष से कम होता है। 5ण्1ण्2 अशुियों के कारण अंतर कभी - कभी दोनों शेषों में अंतर का कारण पफमर् द्वारा रोकड़ बही बैंक द्वारा अभ्िालेखन में की गइर् त्राुटियां भी होती है। इसके कारणवश रोकड़ बही के अनुसार बैंक शेष और बैंक पुस्ितका के अनुसार रोकड़ शेष में अकसर अंतर पाया जाता है। 5ण्1ण्2 ;अद्ध पफमर् द्वारा लेन - देन के अभ्िालेखन में त्राुटि पफमर् द्वारा जारी किए गए अथवा जमा किए गए चेकों से संबंध्ित लेन - देन के अभ्िालेखन मंे भूल अथवा त्राुटिपूणर् अभ्िालेखन जैसे - चेक जमा कराने संबंध्ी प्रविष्िट में त्राुटि या योग में गलती आदि के कारण कइर् बार रोकड़ बही द्वारा प्रदश्िार्त शेष व बैंक पासबुक द्वारा दशार्ए गए शेष में अंतर आ जाता है। 5ण्1ण्2 ;बद्ध बैंक द्वारा लेन - देनों के अभ्िालेखन में त्राुटि बैंक द्वारा भी जमा किए चेकों संबंध्ी लेन - देनों के अभ्िालेखनों या योग संबंध्ी त्राुटियों के कारण रोकड़ बही व बैंक पासबुक के शेषों में अंतर उत्पन्न हो जाता है। स्वंय जाँचिए .1 1ण् निम्न लेन - देनों को पढ़ उनमें अंतर के कारणों को समय अंतराल अथवा पफमर् - बैंक द्वारा त्रुाटियों के आधार पर सही कारण की पहचान कर ;टद्ध का चिन्ह लगाएं। 2ण् रिक्त स्थान भरिएः क्र.सं लेन - देन समय अंतराल बैंक/पफमर् द्वारा त्राुटि 1ण् 2ण् 3ण् 4ण् 5ण् ग्राहक को निगर्मित किए गए चेक जो भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुए। मै.ग ल ्र को 5ए000 रु. का चेक जारी किया लेकिन रोकड़ बही में केवल 500 रु. का अभ्िालेखन किया। बैंक द्वारा जमा पक्ष में लिखा गया ब्याज जिसे अभी रोकड़ बही मंे नही प्रविष्ट किया गया है। बैंक में संग्रह करने हेतु भेजे गए चेक जिनका संग्रहण अभी नहीं हुआ है। पफमर् के चालू खाते का बैंक शुल्क जो कि बैंक द्वारा नाम पक्ष में प्रविष्ट किया गया ;पद्ध पासबुक बैंक के खाता बही में प्रदश्िार्त ............... की अनुकृति है। ;पपद्ध जब बैंक से ध्नराश्िा आहरित की जाती है तो बैंक ग्राहक खाते को ................... करता है। ;पपपद्ध साधरणतः रोकड़ बही नाम शेष व पासबुक ................. शेष दशार्ती है। ;पअद्ध रोकड़ बही के अनुसार अनुकूल शेष, रोकड़ बही के बैंक स्तंभ में ....................... शेष दशार्ता है। ;अद्ध यदि रोकड़ शेष को आरंभ्िाक बिंदु माने तो वे मदें जो रोकड़ बही शेष में कमी लाती हैं उन्हें ........... किया जाएगा। ;अपद्ध यदि बैंक पासबुक द्वारा अनुकूल शेष प्रदश्िार्त किया जा रहा है तथा बैंक समाधन विवरण के आरंभ का आधार भी वही शेष है तो रोकड़ बही के शेष का आकलन करने के लिए जारी चेक जिनका भुगतान नहीं हुआ है, को .............. किया जाना चाहिए। ;अपपद्ध यदि चेकों का भुगतान के लिए प्रस्तुतीकरण नहीं हुआ है तो रोकड़ बही द्वारा प्रदश्िार्त अनुकूल शेष पासबुक द्वारा प्रदश्िार्त शेष से ............... होगा। ;अपपपद्ध यदि बैंक द्वारा एक विनिमय विपत्रा का संकलन हुआ है और प्राप्त राश्िा को ग्राहक के खाते के जमा में लिख दिया गया है तो पासबुक द्वारा प्रदश्िार्त अध्िविकषर् ................. शेष दिखाएगा। ;पगद्ध यदि बैंक समाधन विवरण का आरंभ बिन्दु पासबुक द्वारा प्रदश्िार्त अध्िविकषर् है तो जारी चेक जो कि भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुए हैं .................... जाएगा। ;गद्ध यदि समाधन विवरण का प्राारंभ्िाक बिन्दु पासबुक द्वारा प्रदश्िार्त शेष है तो वह मदें जिनके कारण यह शेष रोकड़ बही द्वारा प्रदश्िार्त शेष से ..................... है, को घटाना चाहिए। 5ण्2 बैंक समाधन विवरण का निमार्ण अंतर के कारणों की पहचान हो जाने के बाद समाधन विवरण निम्न दो प्रकार से तैयार किया जा सकता हैः ;1द्ध समायोजित रोकड़ बही शेष की सहायता के बिना बैंक समाधन विवरण बनाना। ;2द्ध समायोजित रोकड़ बही शेष की सहायता से बैंक समाधन विवरण बनाना। यहाँ यह बात ध्यान देने योग्य है कि अम्यास में बैंक समाधन विवरण का निमार्ण रोकड़ बही में समायोजन के बाद ही किया जाता है जिसके बारे में हम आगे अध्याय में जानेंगे। 5ण्2ण्1 रोकड़ बही में समायोजन के बिना बैंक समाधन विवरण बनाना बैंक समाधन विवरण बनाने की इस विध्ि के अनुसार विवरण का प्रारंभ्िाक बिन्दु रोकड़ बही द्वारा दशार्या गया शेष अथवा बैंक पासबुक के अनुसार शेष होता है। रोकड़ बही में दशार्या गया नाम शेष पफमर् के बैंक खाते में जमा ध्नराश्िा का प्रदशर्न करता है। इसलिए यह शेष बैंक पासबुक द्वारा दशार्ए गए जमा शेष के बराबर होता है। यह शेष, पफमर् द्वारा जमा की गइर् राश्िा का आहरित राश्िा से आिाक्य दशार्ता है। इसे हम रोकड़ बही तथा बैंक पासबुक का अनुकूल शेष भी कह सकते हैं। दूसरी ओर यदि रोकड़ बही का शेष जमा हो तो वह बैंक अध्िविकषर् को प्रदश्िार्त करता है। अथार्त बैंक में जमा की गइर् राश्िा से अध्िक ध्नराश्िा का आहरण किया गया है। दूसरे शब्दों में यदि बैंक में जमा की गइर् धन राश्िा आहरित ध्नराश्िा से कम है तो इसे रोकड़ बही व पासबुक के लिए प्रतिकूल शेष कहेंगे। बैंक समाधन विवरण बनाते समय हमारे सामने यह चार भ्िान्न - भ्िान्न स्िथतियाँ उपस्िथत हो सकती हैंः 1ण् जब हमें रोकड़ बही का नाम शेष ;अनुकूल शेषद्ध दिया गया हो तथा हमें पासबुक के शेष का निश्चय करना हो। 2ण् जब हमें पासबुक का जमा शेष ;अनुकूल शेषद्ध दिया हो और हमें रोकड़ बही के शेष का निधार्रण करना हो। 3ण् जब रोकड़ बही द्वारा प्रदश्िार्त जमा शेष ;प्रतिकूल शेष/अध्िविकषर्द्ध दिया हो और पासबुक द्वारा प्रदश्िार्त शेष का निधर्रण करना हो। 4ण् जब पासबुक द्वारा प्रदश्िार्त नाम शेष ;प्रतिकूल शेष/अध्िविकषर् शेषद्ध दिया हो और रोकड़ बही द्वारा दशार्ए गए शेष का निधर्रण करना हो। 5ण्2ण्1;अद्ध अनुकूल शेषों का व्यवहार बैंक समाधन विवरण बनाने की प्रिया में निम्न चरणों का पालन किया जाएगाः ;पद्ध विवरण के शीषर्क के रूप में इसे बनाने के तिथ्िा सबसे उफपर लिखी जाएगी । ;पपद्ध विवरण का आरंभ्िाक बिन्दु अथार्त् प्रथम मद रोकड़ बही का शेष होगा। वैकल्िपक रूप में आरंभ्िाक बिंदु पासबुक का शेष भी हो सकता है। ;पपपद्ध जमा करवाए गए चेक जिनका संग्रहण नहीं हुआ है, घटाए जाएंगे। ;पअद्ध वह चेक जो निगर्मित किए गए थे परंतु अभी तक भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुए हैं बैंक में ग्राहकों द्वारा सीध्े जमा की गइर् राश्िा में जोड़े जाएंगे। ;अद्ध सभी शुल्क की मदें, जैसे - अध्िविकषर् पर ब्याज, ग्राहक द्वारा निदेर्श्िात प्रत्यक्ष भुगतान, अनादरित चेकों की राश्िा या अन्य कोइर् मद जिस कारण बैंक खाते को नाम किया गया है, घटाए जाएंगे। ;अपद्ध बैंक द्वारा नाम पक्ष में अभ्िालिख्िात मदें जैसे १ प्राप्त ब्याज, संकलित लाभांश आदि जुड़ जाएंगे। ;अपपद्ध अशुियों के लिए समायोजन अशुि सुधर के नियमों के अनुसार ही होगा ;जिसका वणर्न अध्याय 6१ अशुियों का शोध्न, में विस्तार से किया गया हैद्ध। ;अपपपद्ध अब विवरण मंे दिखाया गया शु( शेष पासबुक द्वारा प्रदश्िार्त शेष के बराबर होना चाहिए। यहाँ यह बात ध्यान देने योग्य है कि यदि बैंक समाधन विवरण का आरंभ्िाक बिन्दु पासबुक द्वारा प्रदश्िार्त अनुकूल शेष है तो उपरोक्त सभी मदों का व्यवहार विपरीत होगा अथार्त् अभी हम जिन मदों को जोड़ रहे हैं वह घटाइर् जाएंगी तथा जिन्हें घटा रहे हैं वह जोड़ी जाएंगी। निम्न उदाहरण आपको अनुकूलन शेषों की सहायता से बैंक समाधन विवरण बनाने की प्रिया को समझने में मदद करेंगे। उदाहरण 1 श्री विनोद के व्यवसाय के निम्न विवरण के आधर पर 31 माचर्, 2005 को बैंक समाधन विवरण बनाइये१ 1ण् रोकड़ बही के अनुसार बैंक शेष 50ए000 रु.। 2ण् 6ए000 रु. के निगर्मित चेक जो भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुए। 3ण् बैंक ने 8ए000 रु. का लाभांश प्रत्यक्षतः संकलित कर पफमर् के खाते में जमा कर दिया था परंतु इसकी प्रविष्िट रोकड़ बही में नहीं हुइर्। 4ण् 400 रु. के बैंक शुल्क की प्रविष्िट भी रोकड़ बही में नहीं हुइर्। 5ण् 6ए000 रु. का एक चेक बैंक में जमा किया गया था लेकिन वह अभी संग्रहित नहीं हुआ है। 174 लेखाशास्त्रा - वित्तीय लेखांकन हल 31 माचर्, 2005 को श्री विनोद का बैंक समाधन विवरण विवरण ़ √ राश्िा राश्िा रुरु1ण् रोकड़ बही के अनुसार शेष 50ए000 2ण् भुगतान के लिये निगर्मित चेक जो बैंक में प्रस्तुत नहीं हुए 6ए000 3ण् ब्याज की रकम, जिसे बैंक ने खाते में जमा किया 8ए000 4ण् जमा किए गए चेक जिन्हें अभी संग्रहित नहीं किया गया है 6ए000 5ण् बैंक शुल्क, जिसे रोकड़ बही मंे नही लिखा गया है 6ण् बैंक पुस्ितका के अनुसार शेष 57ए600 64ए000 64ए000 उदाहरण 2 अनिल व कंपनी के निम्न विवरण से 31 अगस्त, 2005 को बैंक समाधन विवरण बनाइये। 1ण् रोकड़ बही अनुसार शेष 54ए000 रु.। 2ण् अनिल व कंपनी खाते मंे 100 रु. का आकस्िमक शुल्क नाम किया गया जिसका अभ्िालेखन रोकड़ बही में नहीं हुआ। 3ण् 5ए400 रु. के चेक बैंक में जमा कराए गए लेकिन अभी उनका संग्रहण नहीं हुआ है। 4ण् अनिल एवं कंपनी द्वारा निगर्मित 20ए000 रु. का चेक अभी भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुआ है। हल 31 अगस्त, 2005 को अनिल व कंपनी का बैंक समाधन विवरण विवरण ;़द्ध राश्िा रु ;√द्ध राश्िा रु 1ण् 2ण् 3ण् 4ण् 5ण् रोकड़ बही के अनुसार शेष भुगतान के लिये निगर्मित चेक जो बैंक में प्रस्तुत नहीं हुए जमा किये गए चेक जिन्हें अभी संग्रहित नहीं किया गया है बैंक आकस्िमक शुल्क जिसे रोकड़ बही में नही लिखा गया है बैंक पुस्ितका के अनुसार शेष 54ए000 20ए000 ... ..5ए400 100 68ए500 74ए000 74ए000 उदाहरण 3 मै. बोस एण्ड कंपनी की पासबुक 31 मइर्, 2005 को 45ए000 रु. का शेष दशार् रही थी। निम्न सूचना के आधर पर बैंक समाधन विवरण बनाइये। 1ण् 31 मइर्, 2005 से पहले 25ए940 रु. चेक निगर्मित किए गए थे परंतु वह भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुए। 2ण् 39ए000 रु. व 2ए350 रु. के दो चेक 31 मइर् को बैंक में जमा करवाए गए परंतु बैंक द्वारा उनका संग्रहण जून में हुआ। 3ण् पासबुक के अनुसार 2ए500 रु. के एक अनादरित चेक की भी प्रविष्िट नाम पक्ष में है। हल 31 मइर्, 2005 को बोस एण्ड कंपनी बैंक समाधन विवरण विवरण ;़द्ध राश्िा रु ;√द्ध राश्िा रु 1ण् 2ण् 3ण् 4ण् 5ण् बैंक पुस्ितका के अनुसार शेष भुगतान के लिए निगर्मित चेक जो कि बैंक में प्रस्तुत नहीं हुए ;3ए900 रु.़ 2ए350 रु.द्ध अनादरित चेक की प्रविष्िट बैंक पुस्ितका के नाम पक्ष में है जमा किये गए चेक जिन्हें अभी संग्रहित नहीं किया गया है रोकड़ बही के अनुसार शेष 45ए000 6ए250 2ए500 25ए940 27ए810 53ए750 53ए750 5ण्2ण्1 ;बद्ध अध्िविकषोर्ं का व्यवहार अभी तक हमने उन बैंक समाधन विवरणों के विषय में जाना है जिनमें आरंभ्िाक शेष अनुकूल/धनात्मक थे। जबकि कइर् बार व्यवसाय बैंक खाते से जमा राश्िा से अध्िक ध्नराश्िा का आहरण कर अध्िविकषर्की स्िथति में भी आ जाता है। अध्िविकषर् का अथर् है जब बैंक खाते में ट्टणात्मक शेष हो और व्यवसाय ने बैंक से उधर ले रखा हो। यह रोकड़ बही में जमा शेष के रूप में प्रदश्िार्त किया जाता है। पासबुक में इसे नाम शेष के रूप में दशार्या जाता है। अध्िविकषर् को बैंक समाधन विवरण में ट्टणात्मक मद में दशार्या जाता है। आगे दिऐ गए उदाहरण आपको अध्िविकषर् की स्िथति में बैंक समाधन विवरण बनाने की प्रिया समझने में मदद करेंगे। उदाहरण 4 राकेश की रोकड़ बही 31 माचर्, 2005 को 8ए000 रु. का अध्िविकषर् दशार् रही थी। उसने बैंक मंे 2ए000 रु. के चेक जमा करवाए थे लेकिन अभी उनका संग्रहण नहीं हुआ था। उसने 800 रु. के चेक निगर्मित किए थे जिनका भुगतान नहीं हुआ था साथ ही बैंक ने उसके खाते को 60 रु. ब्याज व 100 रु. के बैंक शुल्क के लिए नाम किया हुआ है। बैक समाधन विवरण बनाइये। हल 31 माचर्, 2005 को राकेश का बैंक समाधन विवरण विवरण ;़द्ध राश्िा रु ;√द्ध राश्िा रु 1ण् 2ण् 3ण् 4ण् 5ण् रोकड़ बही के अनुसार अध्िविकषर् जमा किये गए चेक जिन्हें अभी संग्रहित नहीं किया गया है बैंक व्यय भुगतान के लिए निगर्मित चेक जो कि बैंक में प्रस्तुत नहीं हुए बैंक पुस्ितका के अनुसार अध्िविकषर् 800 9ए360 8ए000 2ए000 60 100 10ए160 10ए160 उदाहरण 5 31 माचर्, 2005 को अग्रवाल टेªडसर् की रोकड़ बही 1ए18ए100 रु. का अध्िविकषर् दशार् रही थी। बैंक विवरण का अध्ययन करने पर निम्न सूचना प्राप्त हुइर्। 1ण् 12ए400 रु. के सूचना प्राप्त हुइर् चेक जिनका अभ्िालेखन रोकड़ बही में कर लिया गया लेकिन उन्हें बैंक में जमा कराने के लिए नहीं भेजा गया। 2ण् बैंक ने ग्राहक से 27ए300 रु. का सीध भुगतान प्राप्त किया जिसकी कोइर् प्रविष्िट रोकड़ बही में नहीं है। 3ण् 1ए75ए200 रु. के चेक निगर्मित किए गए लेकिन वह भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुए। 4ण् बैंक ने 8ए800 रु. का ब्याज लिया लेकिन इसकी कोइर् प्रविष्िट रोकड़ बही में नहीं है। बैंक समाधन विवरण बनाइये। हल 31 माचर्, 2005 को अग्रवाल टेªडसर् का बैंक समाधन विवरण विवरण ;़द्ध राश्िा रु ;√द्ध राश्िा रु 1ण् 2ण् 3ण् 4ण् 5ण् 6ण् 7ण् रोकड़ बही के अनुसार अध्िविकषर् चेक जिनका अभ्िालेखन रोकड़ बही में कर लिया गया लेकिन बैंक में जमा कराने हेतु नहीं भेजा गया बैंक अध्िविकषर् पर ब्याज की प्रविष्िट रोकड़ बही में नहीं की गइर् ग्राहकों द्वारा सीध भुगतान प्राप्त चेक बैंक खाते में जमा किये लेकिन रोकड़ बही में नहीं लिखे गए चेक जारी किये गए लेकिन भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुए बैंक पुस्ितका के अनुसार शेष ;अनुकूल शेषद्ध 27ए300 1ए75ए200 2ए02ए500 1ए18ए100 12ए400 8ए800 63ए200 2ए02ए500 उदाहरण 6 आशा व कंपनी के निम्न तथ्यों के आधर पर 31 दिसंबर, 2005 को बैंक समाधन विवरण बनाइये। 1ण् पासबुक के अनुसार अध्िविकषर् 2ण् अध्िविकषर् पर ब्याज 3ण् बैंक द्वारा दी गइर् बीमे की किस्त 4ण् निगर्मित चेक जो भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुए 5ण् जमा चेक जो अभी संग्रहित नहीं हुए 6ण् बैंक द्वारा गलती से नाम राश्िा 20ए000 रु2ए000 रु200 रु6ए500 रु6ए000 रु500 रु हल 31 दिसंबर, 2005 को आशा एण्ड कंपनी बैंक समाधन विवरण 1ण् 2ण् 3ण् 4ण् 5ण् 6ण् 7ण् विवरण पासबुक के अनुसार अध्िविकषर् अध्िविकषर् पर ब्याज बैंक द्वारा दी गइर् बीमा की किस्त जमा चेक जो अभी संग्रहित नहीं हुए निगर्मित चेक जो भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुए बैंक द्वारा गलती से नाम राश्िा रोकड़ बही के अनुसार शेष ;अध्िविकषर्द्ध ;़द्ध राश्िा रु2ए000 200 6ए000 500 17ए800 26ए500 ;√द्ध राश्िा रु20ए000 6ए500 26ए500 उदाहरण 7 निम्न तथ्यों के आधर पर 31 माचर्, 2006 को बैंक समाधन विवरण बनाइये। 1ण् रोकड़ बही के अनुसार नाम शेष 10ए000 रु.। 2ण् 1ए000 रु. का बैंक में जमा कराया गया चेक जिसका अभ्िालेखन रोकड़ बही में नही हुआ है। 3ण् बैंक में जमा किये गए 200 रु. के चेक का अभ्िालेखन रोकड़ बही के रोकड़ स्तंभ में किया गया, जैसे कि रोकड़ बही में बैंक स्तंभ है ही नहीं। 4ण् 250 रु. का जारी किया गया एक चेक रोकड़ बही के रोकड़ स्तंभ मंे 205 रु. से अभ्िालिख्िात हुआ। 5ण् पहले दिन का 1ए500 रु. का नाम शेष अगले दिन जमा शेष की तरह आगे लाया गया। 6ण् रोकड़ बही का भुगतान पक्ष 100 रु. से कम है। 7ण् 112 रु. के नकद बट्टे को बैंक स्तंभ में 121 रु. से प्रविष्ट किया गया। 8ण् एक देनदार से 500 रु. का प्राप्त चेक रोकड़ बही में तो अभ्िालिख्िात कर लिया गया लेकिन उसे संग्रह हेतु बैंक नहीं भेजा गया। 9ण् 300 रु. का एक निगर्मित चेक रोकड़ बही मंे दो बार अभ्िालिख्िात हो गया। हल माचर् 31, 2006 को बैंक समाधन विवरण 1ण् 2ण् 3ण् 4ण् 5ण् 6ए 7ण् 8ण् 9ण् 10ण् विवरण रोकड़ बही के अनुसार नाम शेष शेष आ/ले में त्राुटि एक जारी चेक रोकड़ बही में दो बार अभ्िालेख्िात हो गया बैंक में जमा किये गए चेक का अभ्िालेखत बैंक स्तंभ में नहीं किया गया बैंक में जमा कराया गया चेक जिसका अभ्िालेखन रोकड़ बही में नहीं हुआ रोकड़ का भुगतान पक्ष कम है चेक निगर्मित किए गए लेकिन अभ्िालेख्िात नहीं किये नकद बट्टे को गलत राश्िा से प्रविष्ट किया चेक अभ्िालेख्िात किया गया लेकिन बैंक नहीं भेजा गया बैंक पुस्ितका के अनुसार जमा शेष ;़द्ध राश्िा रु10ए000 3ए000 300 200 1ए000 14ए500 ;.द्ध राश्िा रु100 250 121 500 13ए529 14ए500 उदाहरण 8 निम्नलिख्िात तथ्यों के आधर पर 31 माचर् 2005 को श्री कृष्णन के लिए बैंक समाधन विवरण बनाइये। 1ण् पासबुक के अनुसार शेष 10ए000 रु.। 2ण् बैंक द्वारा श्री कृष्णन से एकत्रिात 500 रु. का चेक गलती से श्री कृष्णन के खाते में जमा किया गया। 3ण् 1ए589 रु. की बैंक जमा को गलती से बैंक पासबुक में 1ए598 रु. अभ्िालिख्िात किया गया। 4ण् पासबुक के आहरण पक्ष के योग में 100 रु. की कमी। 5ण् पासबुक के 1ए500 रु. के जमा शेष का अभ्िालेखन नाम शेष में किया गया। 6ण् 350 रु. के एक भुगतान चेक को पासबुक में दो बार अभ्िालेखन हुआ। 7ण् श्री कृष्णन द्वारा जमा कराया गया 1ए000 रु. का चेक बैंक पुस्ितका में जमा शेष दशार् रहा है। हल 31 माचर्, 2005 को श्री कृष्णन का बैंक समाधन विवरण विवरण ;़द्ध राश्िा रु ;.द्ध राश्िा रु 1ण् 2ण् 3ण् 4ण् 5ण् 6ण् 7ण् 8ण् बैंक पुस्ितका के अनुसार जमा शेष गलती से दूसरे के खाते में चेक जमा किया गया नकद किया गया शेष आ/ले में त्राुटि चेक का दोहरा अभ्िालेखन नकद जमा राश्िा का जमा पक्ष में आध्िक्य आहरण पक्ष के योग में कमी जमा पक्ष में गलत राश्िा रोकड़ बही के अनुसार नाम शेष 10ए000 500 3ए000 350 9 100 1ए000 12ए741 13ए850 13ए850 स्वयं जाँचिए .2 सही उत्तर का चुनाव करें 1ण् बैंक समाधन विवरण का निमार्ण करते हैंः ;अद्ध लेनदार ;बद्ध बैंक ;सद्ध बैंक के खातेदार ;दद्ध ेदनदार 2ण् बैंक समाधन विवरण के निमार्ण में किस शेष का प्रयोग होता हैः ;अद्ध पासबुक ;बद्ध रोकड बही ;सद्ध रोकड़ बही और पासबुक दोनों ;सद्ध इनमें से कोइर् नहीं 3ण् पासबुक अनुकृति हैः;अद्ध ग्राहक के खाते की अनुकृति ;बद्ध रोकड़ बही के बैंक स्तंभ ;सद्ध रोकड़ बही के नकद स्तंभ की ;दद्ध प्राप्ितयों एवं भुगतानों की अनुकृति ़4ण् प्रतिकूल बैंक शेष का अथर् हैः ;अद्ध पास बुक में जमा शेष ;बद्ध रोकड़ बही का जमा शेष ;सद्ध रोकड़ बही में नाम शेष ;दद्ध इनमें से कोइर् नहीं 5ण् अनुकूल बैंक शेष का अथर् हैः ;अद्ध रोकड़ बही में जमा शेष ;बद्ध पासबुक में जमा शेष ;सद्ध रोकड़ बही में नाम शेष ;दद्ध ;बद्ध व ;सद्ध दोनों 6ण् बैंक समाधन विवरण बनाने का मुख्य कारण हैः ;अद्ध रोकड़ बही के नकद शेष का समाधन ;बद्ध रोकड़ बही व पासबुक द्वारा दशार्ए गए शेष के मध्य अंतर समाधन करना ;सद्ध ;अद्ध व ;बद्ध दोनों ;दद्ध इनमें से कोइर् नहीं 5ण्2ण्2 समायोजित रोकड़ बही की सहायता से बैंक समाधन विवरण का निमार्ण जब हम रोकड़ बही व पासबुक के शेष में अंतर की विभ्िान्न मदों का अध्ययन करते हैं तो यह स्पष्ट होता है कि कइर् ऐसी मदें हैं जो केवल पासबुक में ही दृष्िटगोचर होती हैं। तो क्यों न ऐसा किया जाए कि सवर्प्रथम हम उन मदों का अभ्िालेखन प्रथमतः रोकड़ बही में कर समायोजित अथवा संशोध्ित शेष की । ऐसा करनेँगणना कर लें और पिफर बैंक समाधन शेष की गणना करके पिफर बैंक समाधन विवरण बनाएसे अंतर उत्पन्न करने वाली विभ्िान्न मदों की संख्या तथा तुलन - पत्रा के लिए सही बैंक शेष की गणना भी हो जाएगी। वास्तविक जीवन में व्यवसाय में यही किया जाता है अथार्त्समय अवध्ि के अंतर की कारक विभ्िान्न मदों की प्रविष्िट ही केवल बैंक समाधन विवरण में दिखाइर् जाती है। जैसे√ ;पद्ध निगर्मित चेक जो भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुए, ;पपद्ध जमा किए गए चेक जो संग्रहित नहीं हुए हैं, ;पपपद्ध पासबुक के अनुसार त्राुटि। बैंक समाधन विवरण बनाने की चरणब( प्रिया को चित्रा 5ण्4 में दशार्या गया है। उदाहरण 9 दिसंबर 2004 के लिए एक रोकड़ बही का सारांश इस प्रकार है√ रोकड़ बही ;बैंक स्तंभद्ध रुरुप्राप्ितयां 13ए221 शेष आ/ला 6ए849 शेष आ/ले 4ए986 भुगतान 11ए358 18ए207 18ए207 सभी प्राप्ितयां को बैंक में जमा करवाया जाता है तथा भुगतान चेकों के माध्यम से किया जाता है। पड़ताल करने पर निम्न तथ्यों का पता चलाः 1ण् 1ए224 रु. का बैंक शुल्क जो बैंक विवरण में तो है लेकिन उसकी प्रविष्िट रोकड़ बही में नहीं हुइर् है। 2ण् 2ए403 रु. के चेक जो कि निगर्मित किए गए थे भुगतान के लिए बैंक के समक्ष प्रस्तुत नहीं हुए। 3ण् 6ए858 रु. के संग्रहित चेक, जिनकी प्रविष्िट रोकड़ बही में करके बैंक में जमा करा दी गइर् थी, जनवरी 2005 तक उनकी राश्िा खाते के जमा पक्ष में प्रविष्ट नहीं हुइर् थी। 4ण् 198 रु. की एक ध्नराश्िा जिसका भुगतान किया था रोकड़ बही में प्राप्ित के रूप में अभ्िालिख्िात की गइर्। 5ण् 225 रु. का एक चेक बैंक द्वारा गलती से नाम किया गया। 6ण् 720 रु. का प्राप्त चेक जिस पर ‘‘ध्न राश्िा अपयार्प्त ध्न राश्िा’’ की टिप्पणी लिखकर वापिस भेज दिया गया था, का समायोजन रोकड़ बही में नहीं किया गया। 7ण् सभी प्राप्त लाभांश सीध्े बैंक खाते में जमा होते हैं। इसलिए बैंक द्वारा जमा 558 रु. के जमा लाभांशों की प्रविष्िट रोकड़ बही में नहीं है। 8ण् एक चेक जो कि 54 रु. का निगर्मित किया गया था रोकड़ बही में गलती से उसकी राश्िा 594 रुअभ्िालिख्िात हुइर्। 9ण् पीछे से लाया गया शेष 639 रु. होना चाहिए था। 10ण् 31 दिसंबर, 2004 को बैंक विवरण में 10ए458 रु. का अध्िविकषर् दिखाया गया। ;कद्ध संशोध्ित रोकड़ बही बनाइये, ;खद्ध 31 दिसंबर, 2004 को बैंक समाधन विवरण बनाइये। हल समायोजित रोकड़ बही ;बैंक स्तंभद्ध नाम जमा तिथ्िा विवरण रो.पृ.सं राश्िा रु तिथ्िा विवरण रो.पृ.सं राश्िा रु. लाभांश प्राप्त 54 रु. की राश्िा का चेक, जिसे 594 रु. की राश्िा से अभ्िालेख्िात किया गया का समायोजन आगे लाए गए शेष का समायोजन शेष आ/ले 558 540 450 5ए778 7ए326 शेष आ/ला बैंक शुल्क चेक भुगतान के स्थान परचेक प्राप्ित के रूप में अभ्िालेख्िात की गइर् ध्न राश्िा का समायोजन वापिस किए गए चेक का समायोजन शेष आ/ला 4ए986 1ए224 396 720 7ए326 5ए778 31 दिसंबर, 2004 का बैंक समाधन विवरण विवरण राश्िा रु राश्िा रु जोडि़ए घटाइए बैंक विवरण के अनुसार अध्िविकषर् निगर्मित किए गए चेक, जो बैंक में प्रस्तुत नहीं हुए चेक जमा किए गए, जिनका अभी तक संग्रहण नहीं हुआ एक चेक बैंक द्वारा गलती से नाम किया गया रोकड़ पुस्तक के अनुसार शेष 6ए858 225 5ए778 10ए458 2ए403 12ए861 12ए861 उदाहरण 10 स्िमथ लि. की रोकड़ बही के अनुसार 31 दिसंबर, 2004 को अध्िविकषर् 18ए000 रु. है। निम्न सूचना के आधर पर समायोजित रोकड़ बही व बैंक समाधन विवरण बनाइए। रु1ण् अप्रस्तुत चेक। 6ए000 2ण् असंग्रहित चेक। 3ए400 3ण् केवल पासबुक में ब्याज की प्रविष्िट की गइर्। 1ए000 4ण् संग्रहित बिल जिन्हें केवल बैंक ने जमा पक्ष में प्रविष्ट किया है। 1ए600 5ण् अरूण ट्रेडसर् से प्राप्त चेक अनादरित हो गया 1ए000 6ण् कपूर व कम्पनी को जारी चेक जिसकी प्रविष्िट रोकड़ बही में नही हुइर् है। समायोजित रोकड़ बही ;बैंक स्तंभद्ध नाम जमा 31 दिसंबर, 2004 का बैंक समाधन विवरण तिथ्िा विवरण रो.पृ.सं राश्िा रु तिथ्िा विवरण रो.पृ.सं राश्िा रु बैंक पुस्ितका के अनुसार जमा पक्ष में विपत्रों की प्रविष्िट शेष आ/ले 1ए600 19ए000 शेष आ/ला ब्याजचेक अनादरित ;अरूण टेªडसर्द्ध कपूर एंड कंपनी ;चेकद्धशेष आ/ला 18ए000 1ए000 1ए000 600 20ए600 20ए600 19ए000 जोडि़ए रोकड़ बही के अनुसार बैंक अध्िविकषर् 19ए000 असंग्रहित चेक 3ए400 घटाइए अप्रस्तुत चेकबैंक पुस्ितका के अनुसार बैंक अध्िविकषर् 22ए400 6ए000 16ए400 चित्रा 5ण्4ः बैंक समाधन विवरण तैयार करने की चरणब( प्रिया लघु परियोजना १ बैंक समाधन विवरण हेतु एक ियाकलाप कमलेश एक्वा प्राॅडक्ट्स लि. में रोकडि़ये के पद पर कायर्रत है। उसके कतर्व्यों में पफमर् का रखरखाव भी शामिल है। पफमर् की रोकड़ बही ;जुलाइर्, 2005 के लिएद्ध जिसका अभ्िालेखन कमलेश ने अभी समाप्त ही किया है, प्रदशर् - 1 में दिखाया गया है। कमलेश की बैंक समाधन विवरण बनाने में सहायता कीजिए। टिप्पणी - रोकड़ स्तंभ यहाँ नहीं दिया गया है। पफमर् के 31 जुलाइर्, 2005 के बैंक विवरण की प्रतिलिपि प्रदशर् - 2 में दी गइर् है। दोनों शेषों में अंकीय अंतर 261ण्30 रु. का है ;बैंक विवरण 903ण्00 रु.œ रोकड़ बही 641ण्30 रुद्ध। एक्वा प्रोडक्ट्स √ रोकड़ बही तिथ्िा विवरण बैंक रु तिथ्िा विवरण बैंक रु 2005 01 जुलाइर् 03 जुलाइर्15 जुलाइर्र् 31 जुलाइर्र् 31 जुलाइर् शेष आ/ला कनिश्का एंटरप्राइजिज रामपाल एण्ड संस सरीन ब्रादसर् शेष आ/ला 756ण्20ऽ 220ण्00ऽ 330ण्00ऽ 63ण्00 2005 02 जुलाइर्02 जुलाइर् 02 जुलाइर् 08 जुलाइर् 14 जुलाइर् 14 जुलाइर् 15 जुलाइर् 26 जुलाइर् 31 जुलाइर् आदित्य वमार् एंड कंगायत्राी एंड कंमेहता एंड कं.सुभाष एंड कंकौश्िाक किरोस्क लिबीमा की किश्त ;ैव्द्ध शेष आ/ले 004450 004451 004452 004453 004454 004455 50ण्00ऽ 130ण्00 10ण्00ऽ 27ण्50 89ण्00ऽ 49ण्00ऽ 250ण्00ऽ 122ण्00ऽ 641ण्70 1ए369ण्20 1ए369ण्20 641ण्70 प्रदशर् - 1 बैंक विवरण खाता एक्वा प्रोडक्टस कंखाता संख्या 79014456 खाता बही संख्या 17 तिथ्िा 31 जुलाइर्ए 2005 तिथ्िा विवरण नाम रु जमा रु शेष रु 2005 01 जुलाइर् शेष 756ण्20 जमाऽ 04 जुलाइर् चेक 220ण्00 ऽ 976ण्20 जमा 09 जुलाइर् 004450 50ण्00ऽ 926ण्20 जमा 14 जुलाइर् 004452 10ण्00ऽ 916ण्20 जमा 16 जुलाइर् सुबाश एंड कं.;क्क्द्ध 89ण्00ऽ 827ण्20 जमा 19 जुलाइर् चेक 330ण्00 ऽ 1ए157ण्20 जमा 24 जुलाइर् 004455 250ण्00ऽ 907ण्20 जमा 26 जुलाइर् बीमा का किश्त 122ण्00ऽ 785ण्20 जमा 30 जुलाइर् 004454 49ण्00ऽ 736ण्20 जमा 31 जुलाइर् बैंक शुल्क 12ण्95 723ण्25 जमा 31 जुलाइर् रुचिता लिमिटेड 179ण्75 903ण्00 जमा प्रदशर् - 2 हल चरण ;1द्ध जैसा कि प्रदशोर् में दिखाया गया है समान मदों पर निशान लगाएँ। चरण ;2द्ध बैंक विवरण के अनुसार रोकड़ बही को पूरा करें। बिना निशान वाली मदें यह दशार्ती है कि उनकी प्रविष्िट प्रोडक्ट्स लि. की रोकड़ बही में नहीं हुइर् है। ये हैैं - ;1द्ध 31 जुलाइर् को रूचिता लि. से 179ण्75 रु. की प्राप्ित। ;2द्ध बैंक द्वारा 31 जुलाइर् को नाम किया गया 12ण्95 रु. का बैंक शुल्क। रोकड़ बही की तिथ्िा विशेष पर पूरा करने के लिए इन मदों की प्रविष्िट आवश्यक है ;देख्िाए - प्रदशर् 3 नइर् प्रविष्िटयां मोटे पि्रंट मंे हैंद्ध एक्वा प्रोडक्ट रोकड़ बही ;उ(रणद्ध दिनांक विवरण बैंक रु दिनांक विवरण बैंक रु 2005 31 जुलाइर् 31 जुलाइर् शेष आ/ला रूचिता लिमिटेड 641ण्70 179ण्75 2005 31 जुलाइर् 31 जुलाइर् बैंक शुल्क शेष आ/ला 12ण्95 808ण्50 821ण्45 821ण्45 01 अगस्त शेष आ/ला 808ण्50 प्रदशर् - 3 चरण 3ः तिथ्िा विशेष पर सही शेष निकालने के लिए रोकड़ बही के स्तंभ का योग कर शेष निकालें। प्रदशर् 3ः के अनुसार आवश्यक प्रविष्िटयां हो जाने के बाद बैंक स्तंभ का योग 808ण्50 रु. हो गया है। लेकिन अभी भी 94ण्50 रु. का अंतर है ;903ण्00 रु. - 808ण्50 रु.द्ध चरण 4ः बचे हुए बिना निशान की मदों को पहचानें, ये हैंः रु1.31 जुलाइर् को सरीन ब्र. से प्राप्ित 63ण्00 2ण् वमार् ब्र. को 2 जुलाइर् को किया गया भुगतान ;चेक न.004457द्ध 130ण्00 3ण् मेहता लि. को 8 जुलाइर् को किया गया भुगतान ;चेक न.004453द्ध 27ण्50 समय अवध्ि में अंतर के कारण यह तीनों मदें अगले माह के बैंक विवरण मंे दृष्िटगोचर होगी लेकिन अभी इस माह के बैंक समाधन में वह निम्न प्रकार दिखाइर् जाएँगी। 31 जुलाइर्, 2005 को एक्वा प्रोडक्ट्स कंपनी का बैंक समाधन विवरण स्वयं कीजिए विवरण राश्िा रु राश्िा रु जोडि़ए रोकड़ बही के अनुसार बैंक शेष अप्रस्तुत चेक वमार् एंड कंमेहता एंड कं 130ण्00 27ण्50 808ण्50 157ण्50 966ण्00 घटाइए बकाया प्राप्ित बैंक विवरण के अनुसार बैंक शेष 63ण्00 903ण्00 आप कामराज लि. नामक एक छोटी पि्रटिंग कंपनी के प्रश्िाक्षु लेखाकार हैं। आपका एक काम कम्पनी की रोकड़ बही में लेन - देनों का अभ्िालेखन व उनका बैंक विवरण से मिलान भी है। उनकी रोकड़ बही को पूरा व जहाँ आवश्यक हो संशोध्न भी कीजिए। कंपनी की रोकड़ बही ;केवल बैंक स्तंभद्ध और बैंक विवरण नीचे दिये गए हैं ;देखें प्रदशर् 4 एवं 5द्ध आप से अपेक्षा हैः ऽ रोकड़ बही व बैंक विवरण की तुलना करें। ऽ रोकड़ बही को पूरा करने के लिए प्रविष्िटयां करें। ऽ रोकड़ बही के समायोजित बैंक शेष की गणना करें। कामराज लि. - रोकड़ बही तिथ्िा विवरण बैंक रु तिथ्िा विवरण बैंक रु 2005 01 अगस्त 01 अगस्त 05 अगस्त 08 अगस्त 10 अगस्त 18 अगस्त 27 अगस्त 30 अगस्त सितंबर 01 शेष आ / ला कपूर एंड कंपनी वी. एस. राव एस. के. आलोक इर्. नूरीस लिसमीरा लि.हषर् वध्र्न प्ठच् पाटर्नसर् शेष आ/ला 1ए946 249 188 150 440 65 520 82 2005 02 अगस्त 02 अगस्त 04 अगस्त 07 अगस्त 09 अगस्त 13 अगस्त 20 अगस्त 27 अगस्त 31 अगस्त ग्ल्र् बीमा नंदा एंड कं200100 डैली लि200101 गैराज शुल्क 200102 एम. डी. पफाइनान्स हिल बदसर् 200103 अक्षय लि200104 कलाकृति लिशेष आ/ले 75 206 315 211 120 22 137 270 2ए284 3ए640 3ए640 2ए284 प्रदशर् - 4 बैंक समाधन विवरण 187 ए. बी. सी विवरण 12, माल रोड, गुड़गाव खाता कामराज लि खामा संख्या 8300582 तिथ्िा 31 अगस्तए 2004 तिथ्िा विवरण नाम जमा शेष रु 2005 01 अगस्त शेष 1ए946 जमा 02 अगस्त चेक 249 2ए195 जमा 04 अगस्त ग्ल्र् बीमा ;क्क्द्ध 75 2ए120 जमा 04 अगस्त 200101 315 1ए805 जमा 05 अगस्त वी. एस. राव 188 1ए993 जमा 08 अगस्त चेक 150 2ए143 जमा 09 अगस्त 200102 211 1ए932 जमा 12 अगस्त चेक 440 2ए372 जमा 12 अगस्त एन. पी. पफाइनान्स ;ैव्द्ध 120 2ए252 जमा 20 अगस्त चेकस 65 2ए317 जमा 27 अगस्त कलाकृति लि 270 2ए047 जमा 31 अगस्त टोनी ब्रदसर् 92 2ए139 जमा 31 अगस्त बैंक शुल्क 55 2ए084 जमा 31 अगस्त सूयार् पफाइनान्स ;ैव्द्ध 1ए000 1ए084 जमा स्वयं जाँचिए - 3 बताइये कि प्रत्येक वाक्यांश सत्य है अथवा असत्यः ;1द्ध पासबुक बैंक द्वारा खातेदार ग्राहक की सुविध के लिए रखा गया विवरण है। ;2द्ध बैंक समाधन विवरण का निमार्ण कुछ अवध्ि के अंतराल में किया जाता है क्योंकि विभ्िान्न कारणों से रोकड़ बही व पासबुक द्वारा दशार्ए गए शेषों में अंतर होता है। ;3द्ध चेक जो कि निगर्मित हुए हैं लेकिन भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुए पासबुक के शेष को कम करते हैं। ;4द्ध जमा किए गए चेक जो कि संकलित नहीं हुए रोकड़ बही के शेष में वृि करेंगे यदि उसकी तुलना पासबुक शेष से की जाए तो। ;5द्ध जमा किए गए चेक यदि बैंक द्वारा संग्रहित नहीं हुए है तो इस स्िथति में पासबुक द्वारा दिखाया गया अध्िविकषर् रोकड़ बही द्वारा अध्िविकषर् से कम होगा। ;6द्ध किसी भी व्यवसाय में रोकड़ बही के बैंक स्तंभ द्वारा दशार्या गया नाम शेष पासबुक द्वारा दशार्ए गए जमा शेष के बराबर होना चाहिए । ;7द्ध यदि कुछ जारी चेक भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुए हैं तो इस स्िथति में रोकड़ बही द्वारा दशार्ये गए अनुकूल बैंक पासबुक द्वारा दशार्ए गए शेष से कम होगा। ;8द्ध ग्राहकों से सीध्ी ली गइर् भुगतान राश्िा के कारण बैंक पासबुक का शेष रोकड़ बही के मुकाबले अध्िक हो जाएगा। ;9द्ध यदि ग्राहक के निदेर्शानुसार बैंक द्वारा कुछ भुगतान कर दिए जाते हैं तो इस स्िथति में बैंक पासबुक का शेष, रोकड़ बही के शेष से अध्िक होगा। अध्याय में प्रयुक्त शब्द 1ण् बैंक समाधन विवरण 2ण् रोकड़ बही व पासबुक अध्िगम उद्देश्यों के संदभर् में सारांश 1ण् बैंक समाधन विवरणः एक ऐसा विवरण जो रोकड़ बही के बैंक स्तंभ द्वारा प्रदश्िार्त शेष व पासबुक द्वारा दशार्ये गए शेष के अंतर के कारकों की पहचान और उनमें समायोजन स्थापित कर दोनों शेषों के अंतर को समाप्त करता है। 2ण् अंतर के कारणः - लेन - देन के अभ्िालेखन का समय। - व्यवसाय अथवा बैंक की त्राुटि। 3ण् समायोजित रोकड़ शेषः यह संभव है कि रोकड़ बही और बैंक पासबुक में प्राप्ितयों अथवा भुगतानों से संबंध्ित प्रविष्िटयाँ उपलब्ध् ना हों, साथ ही कोइर् अभ्िालेखन की त्राुटि यदि है तो उसे सुधरने का प्रयास किया जाना चाहिए। इसके लिये आवश्यक है कि दोनों विवरणों के समाधन से पूवर् दोनों विवरणों में दी गइर् मदों अथवा त्राुटियों को ध्यानपूवर्क जाँचें और अन्य उपलब्ध् सूचनाओं के आधार पर समायोजित रोकड़ शेष की गणना करें। अभ्यास के लिए प्रश्न लघु उत्तरीय प्रश्न 1ण् बैंक समाधन विवरण बनाने के उद्देश्य का उल्लेख कीजिए? 2ण् बैंक अध्िविकषर् से आप क्या समझते हैं? 3ण् उदाहरण की सहायता से समझाइये ‘‘बैंक द्वारा गलती से नाम किया गया’’ से आप क्या समझते हैं? 4ण् समय अन्तराल के कारण होने वाले अंतर के कारणों का उल्लेख कीजिए? 5ण् ‘रोकड़ बही के लिए अनुकमल शेष’ को संक्षेप में समझाइये। 6ण् रोकड़ बही का सही शेष निकालने की प्रिया के विभ्िान्न चरणों की सूची बनाइये। निबंधत्मक प्रश्न 1ण् बैंक समधन विवरण से आप क्या समझते हैं? यह क्यों बनाइर् जाती है? 2ण् रोकड़ बही के बैंक स्तंभ के शेष व पासबुक के शेष में अंतर के कारणों को समझाइये। 3ण् संशोध्ित रोकड़ बही की सहायता से बैंक समाधन विवरण बनाने की प्रिया समझाइये। आंकिक प्रश्न रोकड़ बही व पासबुक के अनुकूल शेष - 1ण् निम्न की सहायता से 31 माचर्, 2005 का बैंक समाधन विवरण बनाइये रु;पद्ध रोकड़ बही के अनुसार शेष 3ए200 ;पपद्ध निगर्मित चेक जो भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुए तक संग्रहित नहीं हुए हैं 2ए000 ;पअद्ध बैंक द्वारा नाम बैंक शुल्क 150 ;उत्तरः पासबुक के अनुसार शेष 2ए00 रु.द्ध 2ण् 31 माचर्, 2005 को रोकड़ बही के अनुसार बैंक शेष 700 रु. था। परंतु उसी तिथ्िा को बैंक पासबुक के अनुसार 700 रु., 300 रु. व 180 रु. के चेक भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुए थे। साथ ही 1ए200 रु. के जमा चेक भी संग्रहित नहीं हुए थे। उपरोक्त सूचना के आधर पर बैंक समाधन विवरण बनाइए। ;उत्तरः पासबुक के अनुसार शेष 3ए680 रु. द्ध 3ण् रोकड़ बही के अनुसार शेष 7ए800 रु. है। रोकड़ बही व पासबुक की तुलना करने पर निम्न विचलन पाए गएः रु;कद्ध चेक जो जमा किए गए परंतु संग्रहित नहीं हुए 3ए000 ;खद्ध निगर्मित चेक जिन्हें प्रस्तुत नहीं किया गया 1ए500 ;गद्ध बैंक द्वारा बीमे की किस्त का भुगतान 2ए000 ;घद्ध बैंक द्वारा बैंक ब्याज जमा किया गया 400 ;ड.द्ध बैंक शुल्क 100 ;चद्ध ग्राहक द्वारा खाते में सीध भुगतान 4ए000 ;उत्तरः पासबुक के अनुसार शेष 8ए600 रु.द्ध 4ण् अतुल की रोकड़ बही ने 31 दिसंबर, 2005 को 40ए000 रु. का शेष प्रदश्िार्त किया। जाँच से पता चला कि तीन चेक जो कि क्रमशः 2ए000 रु., 5ए000 रु., 8ए000 रु. राश्िा के थे का संग्रहित 2 जनवरी, 2006 तक नहीं हुआ था। 7ए000 रु. व 8ए000 रु. को दो चेक जो कि 28 दिसंबर को निगर्मित किए गए थे का भुगतान 3 जनवरी, 2006 तक नहीं हुआ था। इसके साथ ही बैंक ने अतुल के खाते को 325 रु. ब्याज के लिए जमा व 50 रु. के बैंक शुल्क के लिए नाम किया जिसके लिए रोकड़ बही में कोइर् प्रविष्िट उपलब्ध् नहीं है। ;उत्तरः पासबुक के अनुसार शेष 40ए245 रु.द्ध 5ण् 31 माचर्, 2005 को नमन की रोकड़ बही व पासबुक की तुलना करने पर अंतर के निम्न कारक दृष्िटगोचर हुए। रोकड़ बही के अनुसार शेष 40ए960 रु. है। ;कद्ध 31 माचर्, 2005 को नाम किए गए बैंक शुल्क 100 रु. की प्रविष्िट रोकड़ बही में नहीं है। ;खद्ध 21 माचर्, 2005 को एक देनदार ने कम्पनी के बैंक खाते में 2ए000 रु. का सीध भुगतान कर दिया जिसका कोइर् अभ्िालेखन रोकड़ बही में उपलब्ध् नहीं है। ;गद्ध 31 माचर्, 2005 से पहले कंपनी ने 12ए980 रु. के चेक निगर्मित किए थे तथा उनका अभ्िालेखन भी रोकड़ बही में कर दिया गया था लेकिन 31 माचर् 2005 तक प्रस्तुत नहीं हुए। ;घद्ध 6ए900 रु. का विपत्रा जिसे बैंक से भुनाया गया था, का अभ्िालेखन रोकड़ बही में 800 रु. की बट्टा शुल्क की राश्िा से किया गया। ;घद्ध 3ए520 रु. की राश्िा 31 माचर्, 2005 को बैंक खाते में जमा करवाइर् गइर् लेकिन प्रविष्िट अगले दिन भी जमा पक्ष में नहीं की गइर्। ;चद्ध 15 माचर्, 2005 को भानु से प्राप्त 650 रु. के चेक के अनादरित होने की कोइर् प्रविष्िट रोकड़ बही में नहीं की गइर्। 31 माचर्, 2005 का बैंक समाधन विवरण बनाइये। ;उत्तरः पासबुक के अनुसार शेष 50ए870 रु.द्ध 6ण् श्री हिमांशु की पासबुक 31 दिसंबर, 2005 को 7ए000 रु. का शेष दशार् रही है। बैंक समाधन विवरण बनाइये यदि - ;कद्ध 1ए000 रु. मूल्य के चेक एक ग्राहक द्वारा सीध्े बैंक में जमा करवाए गए। ;खद्ध बैंक ने श्री हिमांशु को 700 रु. का ब्याज दिया। ;गद्ध दिसंबर माह में 3ए000 रु. के चेक निगर्मित किए थे जिनमें से 1ए000 रु. के चेक भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुए। ;उत्तरः रोकड़ बही के अनुसार शेष 3ए300 रु. द्ध 7ण् रोकड़ बही के अनुसार शेष की गणना करने के लिए निम्न विवरण की सहायता से 31 दिसंबर, 2005 का बैंक समाधन विवरण बनाइये। ;कद्ध 2ए000 रु. व 5ए000 रु. के दो चेक अक्टूबर माह मे जमा करवाए गए थे लेकिन उनका संग्रहण दिसम्बर तक नहीं हुआ। ;खद्ध दिसम्बर माह में एक ग्राहक से प्राप्त 800 रु. का चेक रोकड़ बही के बैंक स्तंभ में तो उसी समय अभ्िालिख्िात कर दिया लेकिन उसे बैंक में जमा कराना भूल गए। ;गद्ध जनवरी 2005 को 10ए000 रु. के चेक निगर्मित किये गए लेकिन दिसंबर 2005 तक प्रस्तुत नहीं हुए। ;घद्ध निवेश पर 1ए000 रु. के ब्याज का संग्रहण बैंक द्वारा सीध्े किया गया तथा वह केवल पासबुक में ही प्रविष्ट किया गया। पासबुक के अनुसार शेष 50ए000 रु.ऋ ;उत्तरः रोकड़ बही के अनुसार शेष 47ए800 रु.द्ध 8ण् श्री कुमार की पासबुक के अनुसार शेष 3ए000 रु. है ;कद्ध जमा किए गए चेक जो संग्रहित नहीं हुए रामवुफमार 1ए000 रुकिशोर कुमार 500 रु;खद्ध बैंक शुल्क 300 रु;गद्ध निगर्मित चेक जो प्रस्तुत नहीं हुए हामिद 2ए000 रुकपूर 500 रु;घद्ध पासबुक के अनुसार ब्याज 100 रु. जिसकी रोकड़ बही में प्रविष्िट नहीं है। बैंक समाधन विवरण बनाइये। ;उत्तरः रोकड़ बही के अनुसार शेष 2ए200 रु.द्ध 9ण् श्री मोहित की चालू खाते की पासबुक के अनुसार 31 दिसंबर, 2005 को शेष 20ए000 का है निम्न सूचना के आधर पर बैंक समाधन विवरण बनाइये। ;पद्ध 400 रु. का चेक बचत खाते पर आहरित किया गया था परंतु उसे चालू खाते में दशार्या गया है। ;पपद्ध 25 दिसंबर को मोहित ने 300 रु. व 500 रु. के दो चेक निगर्मित किये लेकिन केवल पहला चेक ही भुगतान के लिए प्रस्तुत किया गया। ;पपपद्ध श्री मोहित द्वारा 25 दिसंबर को 500 रु. का चेक निगर्मित किया गया जो भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुआ जबकि उसकी दोहरी प्रविष्िट रोकड़ में की गइर्। ;उत्तरः रोकड़ बही के अनुसार शेष 18ए900 रु.द्ध रोकड़ बही के अनुसार प्रतिकूल शेष 10ण् 01 जनवरी 2005 को राकेश की रोकड़ बही 8ए000 रु. का अध्िविकषर् दशार् रही थी। उसके द्वारा 2ए000 रु. के चेक जमा किये गए थे जिनका संग्रहण 01 जनवरी 2005 तक नहीं हुआ। राकेश द्वारा 800 रु. के चेक निगर्मित किए गए किन्तु उक्त तिथ्िा तक प्रस्तुत नहीं हुए। उसकी पासबुक में 60 रु. की ब्याज राश्िा और 100 रु. की बैंक शुल्क राश्िा को नाम पक्ष में दशार्या गया है। दोनों विशेषों की तुलना करते हुए बैंक समाधन विवरण बनाए। ;उत्तरः पासबुक के अनुसार अध्िविकषर् 9ए360 रु.द्ध 11ण् निम्न सूचना से बैंक समाधन विवरण बनाएँ। ;पद्ध रोकड़ बही के अनुसार 31 दिसंबर, 2005 को अध्िविकषर् 10ए000 रु.। ;पपद्ध उपरोक्त समयावध्ि के लिए बैंक शुल्क 100 रु.। ;पपपद्ध अध्िविकषर् पर छः माह का ब्याज 380 रु. जो कि 31 दिसंबर, 3005 का पासबुक के नाम में दशार्या गया। ;अद्ध निवेश पर ब्याज 600 रु. जो बैंक द्वारा संग्रहित कर खाते में जमा किया गया। ;अपद्ध बैंक में जमा 1ए100 रु. के चेक जो कि 31 दिसंबर, 3005 से पूवर् संग्रहित नहीं हुए। ;उत्तरः पासबुक के अनुसार अध्िविकषर् 8ए830 रु.द्ध 12ण् श्री कुमार ने देखा कि 31 दिसंबर, 2005 को उनकी रोकड़ बही 90ए600 रु. का जमा शेष दशार् रही है। जबकि पासबुक के शेष में अंतर है पासबुक का अध्ययन इस अंतर के लिए निम्न अंतर दशार्ता हैः जमा किया गया 1ए000 रु. का एक चेक ;अगि्रम तिथ्िा काद्ध जो कि रोकड़ बही में नाम किया जा चुका है लेकिन संग्रहण के लिए प्रस्तुत नहीं किया गया। श्री मनोहर को जारी किया गया 8ए000 रु. का चेक भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुआ। 1ए500 रु. के चेक जो कि बैंक में जमा करवाए गए अभी संग्रहित नहीं हुये और 5ए000 रु. का एक चेक अनादरित हो गया। ;उत्तरः पासबुक के अनुसार अध्िविकषर् 1ए03ए600द्ध 13ण् 31 दिसंबर, 2005 वफो मित्तल ब्रदसर् की रोकड़ बही 6ए920 रु. का अध्िविकषर् दशार् रही थी। निम्न विवरण की सहायता से बैंक समाधन विवरण बनाइये तथा पासबुक के शेष की गणना कीजिए। 1ण् बैंक द्वारा 200 रु. अध्िविकषर् पर ब्याज व 50 रु. बैंक शुल्क नाम किए गए। 2ण् 4ए000 रु. के निगर्मित चेक जो 31 दिसंबर, 2005 से पूवर् भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुए। 3ण् बैंक ने 600 रु. का ब्याज एकत्रिात कर पासबुक में जमा किया। 4ण् एक विनिमय विपत्रा जो कि 700 रु. का था, पहले बैंक से बट्टा करवाया गया था, अनादरित होने के कारण नाम पक्ष में प्रविष्ट किया गया। 5ण् 6ए000 रु. के चेक जो बैंक में जमा कराए गए 31 दिसंम्बर, 2005 से पहले संग्रहित नहीं हुए। ;उत्तरः पासबुक के अनुसार अध्िविकषर् 9ए270 रु.द्ध पासबुक के अनुसार प्रतिकूल शेष 14ण् 31 दिसंबर, 2005 को श्री भंडारी के लिए बैंक समाधन विवरण बनाइये। ;पद्ध 550 रु. के चेक भुगतान की प्रविष्िट को पासबुक मे दो बार अभ्िालिख्िात किया गया। ;पपद्ध पासबुक के आहरण स्तंभ का योग 200 रु. से कम है। ;पपपद्ध 200 रु. का एक चेक रोकड़ बही के बैंक स्तंभ में तो प्रविष्ट कर दिया गया लेकिन उसे संग्रहण के लिए बैंक नहीं भेजा गया। ;अपद्ध 300 रु. का एक चेक जिसे पास बुक के बैंक स्तंभ में नाम किया गया था, बैंक में भेजा ही नहीं गया। ;अद्ध 500 रु. के चेक के अनादरण की प्रविष्िट पासबुक में तो हो गइर् है लेकिन रोकड़ बही में नहीं हुइर्। ;उत्तरः पासबुक के अनुसार अध्िविकषर् 20ए000 रु. हैऋ रोकड़ बही के अनुसार अध्िविकषर् 20ए350 रु.द्ध 15ण् श्री मुरली की पासबुक के अनुसार अध्िविकषर् 20ए000 रु. है। 31 दिसंबर 2005 के लिए बैंक समाधन विवरण बनाइये। ;पद्ध पासबुक के अनुसार नाम किए गए बैंक शुल्क 500 रु;पपद्ध 2ए500 रु. के चेक जो रोकड़ बही में तो अभ्िालिख्िात हुए पर जमा के लिए बैंक में नहीं भेजे गए ;पपपद्ध ग्राहक से सीध्े प्राप्त भुगतान 4ए600 रु;पअद्ध निगर्मित चेक जो भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुए 6ए980 रु;अद्ध बैंक द्वारा जमा ब्याज 100 रु;अपद्ध जीवन बीमा की किश्त का भुगतान बैंक द्वारा 2ए500 रु. जमा कराए गए चेक जिनका संग्रहण नहीं हुआ है ;अपपद्ध जमा कराए गए चेक जिनका संग्रहण नहीं हुआ है 3ए500 रु;उत्तरः रोकड़ बही के अनुसार अध्िविकषर् 22ए680 रु.द्ध 16ण् राघव व कंपनी के एक बैंक में दो खाते हैं। खाता नं.1 व खाता नं.2 नीचे खाता नं.1 से संबंध्ि त कुछ विवरण दिए गए है उनके आधर पर पफमर् की रोकड़ बही का शेष ज्ञात करें। ;पद्ध 31 दिसंबर, 2005 से पूवर् बैंक में जमा किए गए 10ए000 रु. मूल्य के चेक जिनका संग्रहण नहीं हुआ ह।ै;पपद्ध खाता नं.2 से 8ए000 रु. की ध्न राश्िा का खाता नं.1 में हस्तांरतरण जिसका अभ्िालेखन बैंक पास बुक में 31 दिसंबर, 2005 को हो गया था तथा रोकड़ बही में बाद में हुआ। ;पपपद्ध 7ए429 रु. के चेक जो कि 31 दिसंबर, 2005 से पूवर् निगर्मित किए गए थे भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुए। ;पअद्ध बैंक द्वारा नाम किया गया 200 रु. का बैंक शुल्क जिसकी प्रविष्िट पासबुक में तो है पर रोकड़ बही में नहीं ;अद्ध बैंक द्वारा नाम ब्याज जिसकी प्रविष्िट रोकड़ बही में नहीं है। ;अपद्ध पासबुक के अनुसार अध्िविकषर् 18ए990 रु.। ;उत्तरः रोकड़ बही के अनुसार अध्िविकषर् 23ए639 रु.द्ध 17ण् निम्न विवरण की सहायता से बैंक समाधन विवरण बनाकर रोकड़ बही की गणना कीजिए। ;पद्ध दिसंबर 31, 2005 को पासबुक के अनुसार अध्िविकषर् 20ए000 रु.। ;पपद्ध बैंक अध्िविकषर् पर ब्याज 2ए000 रु. जो कि रोकड़ बही में अभ्िालिख्िात नहीं है। ;पपपद्ध 200 रु. बीमे की किस्त का भुगतान सीध्े बैंक ने किया जिसके विषय में कोइर् प्रविष्िट रोकड़ बही में नहीं है। ;पअद्ध दिसम्बर, 2005 के आख्िारी सप्ताह में जारी किए गए 3ए000 रु. व 3ए500 रु. के चेक भुगतान के लिए प्रस्तुत नहीं हुए। ;अद्ध 6ए000 रु. के चेक नवम्बर माह में बैंक में जमा किए गए थे जो कि दिसम्बर, 2005 तक भी संग्रहण नहीं हुए थे। ;अपद्ध बैंक द्वारा गलती से नाम की गइर् राश्िा 500 रु.। ;उत्तरः रोकड़ बही के अनुसार अध्िविकषर् 17ए800 रु.द्ध 18ण् श्री रणध्ीर की पास बुक 31 माचर्, 2005 को 40ए950 रु. का अध्िविकषर् दशार् रही है। उपरोक्त तिथ्िा को बैंक समाधन विवरण बनाइये ;पद्ध श्री रणध्ीर द्वारा 27 माचर् को निगर्मित किए गए चेकों में से 3ए000 रु. के एक चेक का भुगतान 3 अप्रैल को हुआ। ;पपद्ध बैंक ने सीध्े संकलित ब्याज की राश्िा 3ए800 रु. से खाते को जमा किया परंतु इसकी प्रविष्िट रोकड़ बही में नहीं की। ;पपपद्ध श्री रणध्ीर ने अपने खाते मे 31 माचर् को 10ए900 रु. नकद व 3ए800 रु. के चेक जमा करवाए लेकिन चेकों का संकलन 7 अप्रैल को हुआ। ;पअद्ध एक 780 रु. का चेक जिसे पहले पासबुक के जमा पक्ष में प्रविष्ट कर दिया गया और अनादरित होनेके कारण उसकी प्रविष्िट नाम पक्ष में 1 अप्रैल, 2005 को की गइर् लेकिन रोकड़ बही में इसकी कोइर् भी प्रविष्िट 15 अप्रैल तक भी नहीं हुइर् थी। ;उत्तरः रोकड़ बही के अनुसार अध्िविकषर् 36ए350 रु.द्ध परियोजना 1ण् आप सिल्क व कालीन के विक्रेता के यहाँ रोकडि़ये हैं। आपका मुख्य कायर् कंपनी की रोकड़ बही बनाना और प्रत्येक माह के अंत में बैंक समाधन विवरण बनाना है। नीचे पफरवरी माह के लिए रोकड़ बही व बैंक विवरण की अनुकृति दी गइर् है। आप से अपेक्षा हैः ऽ बैंक विवरण व रोकड़ बही में समाधन करें। ऽ रोकड़ बही को तिथ्िावार पूरा करने के लिए आवश्यक प्रविष्िटयां करें। ऽ रोकड़ बही शेष से आरंभ कर अप्रस्तुत चेकों को जोड़ते हुए बैंक समाधन विवरण बनाएँ। ऽ बैंक प्राप्ितयाँ का ब्यौरा दें। ऽ बैंक पासबुक में विवरण उतारकर इसके शेष को अपनी बही के शेष से मिलाएं। बैंक समाधन विवरण 195 सिल्क व कारपेट लि रोकड़ बही नाम जमा दिनांक विवरण बैंक रु तिथ्िा विवरण बैंक रु 2005 01 पफरवरी 01 पफरवरी 04 पफरवरी 08 पफरवरी 13 पफरवरी 20 पफरवरी 28 पफरवरी 08 पफरवरी शेष आ/ला ब्राउन एंड कंबिन्दास रोबिन्सन लिमाॅरिस किन्की एंड कंहाॅविल लिशेष आ/ला 1ए425 157 243 91 75 420 94 2005 01 पफरवरी 01 पफरवरी 03 पफरवरी 09 पफरवरी 09 पफरवरी 10 पफरवरी 16 पफरवरी 23 पफरवरी 27 पफरवरी 28 पफरवरी भागर्व ब्रदसर् मारूती लि.400460 जैक्सन लि.400461 स्पैन्सर पाटर्नर 400462 आइवरी कंप्यूटर 400463 सूयार् बीमा शंकर गैराज 400464 खुदरा रोकड़ 400465 स्वरूप एंण्ड कं 400466 शेष आ/ले 98 50 540 42 490 300 110 50 120 705 2ए505 2ए505 705 रोहतगी बैंक 10, शास्त्राी रोड, नइर् दिल्ली खाताः ब्रुकयन लितिथ्िाः 28 पफरवरी, 2005 विवरण खाता सं.ः 29842943 तिथ्िा विवरण नाम जमा शेष ;रु.द्ध 01 पफरवरी 02 पफरवरी 04 पफरवरी 02 पफरवरी 06 पफरवरी 10 पफरवरी 12 पफरवरी 14 पफरवरी 14 पफरवरी शेष चेकस मारूती लि400460 बिन्दास चेकस सूयार् बीमा माॅरिस 400463 50 98 300 490 157 243 91 75 1ए425 जमा 1ए582 जमा 1ए532 जमा 1ए434 जमा 1ए677 जमा 1ए768 जमा 1ए468 जमा 1ए543 जमा 1ए053 जमा 23 पफरवरी 26 पफरवरी 26 पफरवरी 27 पफरवरी 28 पफरवरी चेकस राजेश्वर 400465 सौम्या बैंक शुल्क 103 50 38 420 1ए473 जमा 1ए370 जमा 1ए320 जमा 220 1ए540 जमा 1ए502 जमा 2ण् आप चिनार लि. के रोकडि़ये हैं। आपका मुख्य कायर् रोकड़ बही में प्रविष्िटयां करना तथा माह के अंत में बैंक विवरण बनाना है। आगे अक्टूबर 2005 के लिए रोकड़ बही ;बैंक स्तंभद्ध व बैंक विवरण की अनुकृति दी गइर् है। आप से अपेक्षा हैः ऽ बैंक विवरण से रोकड़ बही का मिलान कीजिए। ऽ रोकड़ बही को तिथ्िावार पूरा करने के लिए प्रविष्िटयां कीजिए। ऽ रोकड़ बही के बैंक स्तंभ के संशोध्ित शेष की गणना कीजिए। ऽ रोकड़ बही शेष से आरंभ कर बैंक समाधन विवरण बनाते समय अप्रस्तुत चेकों की सूची बनाइये। ऽ बैंक पासबुक में प्रस्तुत प्रविष्िटयों को अभ्िालिख्िात कीजिए। ऽ बैंक विवरण का पुनः योग निकाल बैंक विवरण के योग की शु(ता की जाँच कीजिए। रोकड़ बही तिथ्िा विवरण बैंक रु तिथ्िा विवरण बैंक रु 01 अक्टूबर 04 अक्टूबर 08 अक्टूबर 11 अक्टूबर 11 अक्टूबर 12 अक्टूबर 20 अक्टूबर 25 अक्टूबर 31 अक्टूबर शेष आ/ला एलेन रोजसर् मोरे एण्ड काले होवडर् लिबेरेट एंड ब्राइर्सन पटेल लिकोहेन एंड कंजे. मैकगिलवरी शेष आ/ले 2ए521 620 27 48 106 301 58 209 604 01 अक्टूबर 04 अक्टूबर 05 अक्टूबर 08 अक्टूबर 13 अक्टूबर 14 अक्टूबर 22 अक्टूबर 25 अक्टूबर 30 अक्टूबर 01 नवंबर शापर् एंड कं. ;किरायाद्ध आइ ओसवाल 210526 हेल्थ एंड स्पोटर््स 210527 एवन एंड संस 210528 खारे गराज 210529 जै चैध्री 210530 आस्था बीमा ;क्क्द्ध सोमा कंप्यूटसर् 210531 रस्तोगी शेष आ/ला 400 367 1ए108 320 32 28 139 1ए800 300 4ए494 4ए494 604 बैंक समाधन विवरण 197 ओम बैंक 99ए जवाहर मागर् खाता चिन्नार लितिथ्िा 31 अक्टूबरए 2005 विवरण खाता नंण् 06618432 तिथ्िा 2004 01 अक्टूबर 01 अक्टूबर 04 अक्टूबर 07 अक्टूबर 11 अक्टूबर 13 अक्टूबर 15 अक्टूबर 18 अक्टूबर 18 अक्टूबर 22 अक्टूबर 27 अक्टूबर 28 अक्टूबर 29 अक्टूबर 29 अक्टूबर 29 अक्टूबर विवरण शेष शापर् एंड कंएलेन रोजसर् 210526 चेकस डी. पटेल ;ठळब्द्ध चेकस 210528 210527 आस्था बीमा ;क्क्द्ध 210531 भारद्वाज रस्तोगी बैंक ब्याज बैंक शुल्क नाम जमा शेष रु रु रु 2ए521 जमा 400 2ए121 जमा 620 2ए741 जमा 367 154 2ए374 जमा 2ए528 जमा 301 2ए829 जमा 27 2ए856 जमा 320 2ए536 जमा 1ए108 139 1ए428 जमा 1ए289 जमा 1ए800 511 जमा 114 397 जमा 300 697 जमा 53 750 जमा 45 795 जमा स्वयं जाँचिए की जाँच सूची स्वयं जाँचिए - 1 ;1द्ध 1ण् समय अन्तराल ;2द्ध त्राुटि ;3द्ध समय अंतराल ;4द्ध समय अंतराल ;5द्ध समय अन्तराल ;2द्ध ;पद्ध ग्राहक का खाता ;पपद्ध नाम ;पपपद्ध जमा ;पअद्ध नाम ;अद्ध जोड़ा जाएगा ;अपद्ध घटाया जाएगा हानि ;अपपपद्ध हानि ;पगद्धजोड़ा जाएगा ;गद्ध अध्िक ;उफँचाद्ध स्वयं जाँचिए - 2 1 ;सद्ध 2 ;सद्ध 3 ;अद्ध 4 ;अद्ध 5 ;सद्ध 6 ;दद्ध स्वयं जाँचिए - 3 1ण् ;सद्ध 2ण् ;सद्ध 3ण् ;अद्ध 4ण् ;सद्ध 5ण् ;अद्ध 6ण् ;सद्ध 7ण् ;सद्ध 8ण् ;सद्ध 9ण् ;अद्ध चिनार लि. रोकड़ बही

RELOAD if chapter isn't visible.