6. छुक - छुक गाड़ी छूटी मेरी रेल। रे बाबू, छूटी मेरी रेल। हट जाओ, हट जाओ भैया! मैं न जानूँ, पिफर वुफछ भैया! टकरा जाए रेल। ध्क - ध्क, ध्क - ध्क, ध्ू - ध्ू, ध्ू - ध्ू! भक - भक, भक - भक, भू - भू, भू - भू! छक - छक छक - छक, छू - छू, छू - छू! करती आइर् रेल। इंजन इसका भारी - भरकम। बढ़ता जाता गमगम गमगम। ध्मध्म ध्मध्म, ध्मध्म ध्मध्म। करता ठेलम ठेल। सुनो गाडर् ने दे दी सीटी। टिकट देखता पिफरता टीटी। सटी हुइर् वीटी से वीटी। करती पेलम पेल। पिछले पन्नों में इन रंगों को ढ़ँूढ़ो। इन रंगों वाली पूरा करो छूटी मेरी रेल, रे बाबू .....................................................। सुनो गाडर् ने दे दी ..........................................................। अब तक पिछले पन्नों में जितनी भी चीशों के नाम आए हैं उनकी सूची बच्चों की मदद से श्यामप‘ पर लिखें। उन चीशों में से किसी एक चीश को रंग के अनुसार अलग - अलग रंग के डिब्बों में लिखने को कहें।

RELOAD if chapter isn't visible.